भारत-चीन झड़प: मंडी और शिमला में प्रदर्शन, दुकानदारों ने चाईनीज सामान फूंका
Shimla News in Hindi

भारत-चीन झड़प: मंडी और शिमला में प्रदर्शन, दुकानदारों ने चाईनीज सामान फूंका
चाईनीज सामान को फूंकते हुए सुंदरनगर में दुकानदार.

शिमला में भी विभिन्न संगठनों ने शहीद जवानों को श्रदांजलि दी तो वहीं शहर के दुकानदारों ने चीनी वस्तुओं का सामान जलाकर चीन का बहिष्कार किया. रामबाज़ार के दुकानदारों ने चीनी वस्तुओं को एक जगह एकत्र कर जला दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 19, 2020, 12:27 PM IST
  • Share this:
शिमला/मंडी. चीन और भारत (India China Clash) में भिड़ंत में 20 भारतीय सैनिकों की शहादत से देशभर में लोगों में गुस्सा और गम है. लोग लगातार चीन की निंदा कर रहे हैं और चीनी सामान का बहिष्कार करते नजर आ रहे हैं. सुंदरनगर के नवगठित सुकेत व्यापार मंडल ने चीनी सामान (China) का दहन किया और शहीदों की याद में कैंडल मार्च (Candle March) निकाला. सुकेत व्यापार मंडल के संयोजक सुरेश कौशल और वरिष्ठ सलाहाकार वीरेंद्र सूद के नेतृत्व में व्यापारियों ने चीन विरोधी नारेबाजी की और शहीदों के लिए 2 मिनट का मौन भी रखा.

कैंडल मार्च निकाला
कैंडल मार्च की शुरुआत सिनेमा चौक से पुराना स्टैंड होते हुए समापन भोजपुर बाजार में किया गयावहीं कैंडल मार्च के दौरान एनएच-21 चंडीगढ़-मनाली से गुजर रही सेना की गाड़ियों में बैठे हुए सैनिकों को देखकर और भी जोश से भर गया. व्यापारियो ने प्रण लिया है कि वो चाईनीज सामान का व्यापार नहीं करेंगे.

ये भी पढ़ें: भारत-चीन झड़प: हिमाचल में फौजी जवानों को एंट्री के लिए E-Pass में छूट
चाईना निर्मित सामान ना मंगवाएं


वरिष्ठ सलाहकार वीरेंद्र सूद ने कहा कि वर्तमान में जहां कोरोना महामारी ने देश सहित विश्व के लिए एक खतरा बन गया है. वहीं चीनी सेना का हमारे सैनिकों पर हमला करना एक निंदनीय कृत्य है. उन्होंने सभी व्यापारियों से निवेदन करते हुए कहा कि व्यापारी भविष्य में कोई चाईना निर्मित सामान न मंगवाए और न ही उसे बेचें. एशिया में भारत चीन का सबसे बड़ा बाजार है और यहां से जो पैसा चीन जाता है वह सीमा पर हमारे सैनिकों पर हमला करने में खर्च करते हैं.

शिमला में रामबाजार में फूंका सामान
शिमला में भी विभिन्न संगठनों ने शहीद जवानों को श्रदांजलि दी तो वहीं शहर के दुकानदारों ने चीनी वस्तुओं का सामान जलाकर चीन का बहिष्कार किया. रामबाज़ार के दुकानदारों ने चीनी वस्तुओं को एक जगह एकत्र कर जला दिया. दुकानदारों ने चीन सामानों को जलाते हुए चीन का विरोध में जमकर नारेबाजी भी की. दुकानदारों का कहना है कि गलवान घाटी में भारतीय सेना के साथ हुए अमानवीय घटना को भारतीय सेना जरुर जवाब देगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज