हिमाचल: स्पीकर विपिन सिंह परमार ने Corona पर दिया ऐसा ज्ञान, सदन में हंसने लगे विधायक
Shimla News in Hindi

हिमाचल: स्पीकर विपिन सिंह परमार ने Corona पर दिया ऐसा ज्ञान, सदन में हंसने लगे विधायक
स्पीकर की बात सुनकर हंसने लगे विधायक. (File)

विधानसभा सत्र के दौरान स्पीकर विपिन सिंह परमार ने कहा कि जोर से बोलने पर भी कोरोना संक्रमण (Coronavirus) फैल सकता है. तर्क सुनकर सदन में मौजूद विधायक (MLA) जोर से हंसने लगे.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश विधानसभा (Himachal Assembly) के अध्यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने मंगलवार को विधायकों से कोविड-19 नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील करते हुए कहा कि जोर से बोलना भी संक्रमण के प्रसार में मददगार हो सकता है. सोमवार को इंदोरा से भाजपा विधायक रीता देवी कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित पाई गई थीं. महिला विधायक ने कहा कि वह सोमवार शाम कोविड-19 जांच से पहले विधानसभा की बैठक में शामिल हुई थीं, लेकिन विधानसभा परिसर में वह अन्य विधायकों से दूरी बनाकर थीं.

विधानसभा सत्र के दूसरे दिन की शुरुआत में परमार ने कहा कि मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) के अनुसार जोर से बोलने से भी संक्रमण फैल सकता है, इसलिए संक्रमण को नियंत्रण में रखने के लिए सामान्य तरह से बोलें. इस पर विधायक जोर से हंस पड़े. वहीं विपक्ष के नेता की ओर से सोमवार को पेश किए गए स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कई विधायक जोर से बोल रहे थे.

स्वस्थ होकर सदन में पहुंची विधायक



इस बीच दून से भाजपा विधायक परमजीत सिंह पम्मी का अध्यक्ष ने सदन में स्वागत किया. वे कोविड-19 से स्वस्थ होने के बाद मंगलवार को सत्र में हिस्सा लेने के लिए आए. वे 17 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. वहीं, स्वस्थ होने के बाद राज्य बिजली मंत्री सुखराम चौधरी भी सोमवार और मंगलवार को सत्र में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे. वे 6 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे और 23 अगस्त को वह स्वस्थ हो गए. अभी जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, रीता देवी और नालागढ़ से कांग्रेस के विधायक लखविंदर सिंह राणा कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.
ये भी पढ़ें: हाईकोर्ट ने कहा- अब COVID-19 टेस्टिंग के लिए दिल्ली के पते वाले आधार कार्ड की जरूरत नहीं

 डीसी कांगड़ा संक्रमित

वहीं, कांगड़ा जिले में सोमवार को कोरोना के 51 नए मामले सामने आए हैं. इनमें कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के पूर्व विधायक संजय चौधरी और डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति पॉजिटिव पाए गए हैं. बता दें कि कोरोना काल के शुरुआती दौर में इस बीमारी की रोकथाम के लिए डीसी कांगड़ा ने काफी वाहवाही बटौरी थी. लेकिन अब वह खुद संक्रमित हो गए हैं. वहीं, धर्मशाला के चैतडु गांव में नौ प्रवासी मजदूर भी कोरोना की चपेट में आए हैं. इनमें आठ साल के बच्चों से लेकर 55 वर्ष तक के लोग शामिल हैं. उधर, फतेहपुर में पश्चिम बंगाल से आए प्रवासी परिवार के पांच अन्य लोग भी पॉजिटिव मिले हैं. इसके अलावा, सेना के दो जवानों को भी कोरोना हो गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज