लाइव टीवी

फिर ट्रैक पर उतरा 115 साल पुराना स्टीम इंजन, 29 विदेशियों संग पहुंचा शिमला
Shimla News in Hindi

Reshma Kashyap | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 21, 2020, 3:34 PM IST
फिर ट्रैक पर उतरा 115 साल पुराना स्टीम इंजन, 29 विदेशियों संग पहुंचा शिमला
शिमला में ट्रैक पर उतरा 115 साल पुराना इंजन.

स्टेशन अधीक्षक शिमला प्रिंस सेठी ने बताया कि सात ब्रिटिश सैलानियों ने 115 साल पुराने स्टीम इंजन की बुकिंग करवाई थी. रेल विभाग ने किराया एक लाख 24 हजार तय कर रखा है.

  • Share this:
शिमला. विश्व धरोहर कालका-शिमला रेलवे ट्रैक (Kalka Shimla Rail Track) पर फिर से 115 साल पुराना स्टीम इंजन उतरा. शिमला पहुंचे इस स्टीम इंजन के साथ तीन लग्जरी कोच जोडे गए थे, जिसमें यूनाइटिड किंग्डम के 29 सैलीनियों ने सफर का मज़ा लिया. दरअसल, एतिहासिक स्टीम इंजन को इस साल दूसरी बार ऑन डिमांड पर ट्रैक पर उतारा गया. इस स्टीम इंजन को इंग्लैंड के 29 सैलानियों ने बुक करवाया था.

कैथलीघाट से शिमला तक का सफर
सैलानियों ने शिमला से कैथलीघट तक का सफर किया. स्टीम इंजन दोपहर 11:30 बजे शिमला से सोलन के कैथलीघाट के लिए रवाना हुआ. एक घंटे कैथलीघाट में रुकने के बाद यह शिमला लौटा. शिमला से रवाना होने से पहले ब्रिटिश सैलानियों ने शिमला रेलवे स्टेशन और स्टीम इंजन की खूबसूरती को कैमरों में कैद किया. सफर में हिस्सा लेने वाले रे स्मिथ टूर गाइड थे. उन्होंने 9वीं बार इस सफर का मज़ा लिया. रे ने बताया कि जब भी वह सफर करते हैं तो इतिहास को एक बार फिर से जी लेते है. क्योंकि यह स्टीम इंजन ब्रिटिशर्स के समय का बना हुआ है. इसमें सफर करते हुए सीटी की आवाज सुनने, असमान में धुआं उड़ते देखना, आसपास प्राकृतिक सौंदर्य देखना, अपने आप में एक अनोखा अनुभव होता है.

लोग भी जुटे



इंजन की छुक-छुक की आवाज सुनते ही रेलवे स्टेशन के आसपास के लोग और सैलानी उसे देखने के लिए एकत्र हो गए थे. स्टीम इंजन में भाप के पिस्टन में आगे-पीछे चलने और बाहर निकलने से छुक-छुक की आवाज पैदा होती है. स्टीम इंजन में बजने वाली सीटी भाप के दबाव से बजती है. डीजल इंजन के मुकाबले स्टीम इंजन की सीटी ज्यादा तीखी और दूर तक सुनाई देती है.



बार बार नहीं मिलता मौका- विवियन
इंग्लैंड के सैलानी इस स्टीम इंजन पर सफर करने को लेकर काफी उत्सुक दिखे. सैलानी विवियन ने कहा कि वह पहली बार इसमें सफर पर जा रही हैं. ऐसा मौका बहुत कम मिलता है. इंग्लैंड में अब भी बहुत जगहों पर स्टीम इंजन चलाए जाते हैं, लेकिन भारत में शिमला जैसी जगह पर इसका अपना अलग अनुभव है. नार्थ इंग्लैंड से आई क्रिस्टी स्टीम इंजन में सफर करने के लिए काफी उत्साहित दिखीं.

कुल 29 सैलानियों ने सफर का लुत्फ.
कुल 29 सैलानियों ने सफर का लुत्फ.


1.24 लाख रुपये में बुकिंग
स्टेशन अधीक्षक शिमला प्रिंस सेठी ने बताया कि सात ब्रिटिश सैलानियों ने 115 साल पुराने स्टीम इंजन की बुकिंग करवाई थी. रेल विभाग ने किराया एक लाख 24 हजार तय कर रखा है. इंग्लैंड के सैलानियों ने स्टीम इंजन बुक करवाया था और आज 29 सैलानी सफर पर निकले है. स्टीम इंजन कैथलीघाट तक चलाया गया है. इस साल दूसरी बार स्टीम इंजन ट्रैक पर उतरा है.

ये भी पढ़ें: फिर 1000 करोड़ का कर्ज लेगी हिमाचल सरकार, सूबे पर अब तक 55 हजार करोड़ कर्ज

हिमाचल में मौसम: शिमला-मनाली में बर्फबारी, निचले इलाकों में बारिश, NH-5 बंद

PHOTOS: मनाली का ‘मिनी अमरनाथ’ अंजनि महादेव, दर्शनों के लिए पंहुच रहे भक्त

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 21, 2020, 3:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading