PG में दाखिलों पर घमासान: RSS का अखाड़ा बन गया HPU का कैंपस: विक्रमादित्य सिंह

एचपीयू कैंपस में कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह.
एचपीयू कैंपस में कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह.

Student Protest in HPU: इस बीच वाइस चांसलर ने एक बार फिर से मीडिया से दूरी बनाए रखी, मीडियाकर्मियों से मिलने से इनकार कर दिया.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (एचपीयू) में पोस्ट ग्रेजुएशन में दाखिले को लेकर जारी घमासान अब सियासी (Politics) मुद्दा बन गया है. हालांकि. प्रशासन ने एमबीए और एलएलबी में 28 अक्तूबर को प्रवेश करवाने का फैसला किया है, लेकिन छात्र संगठनों (Student Groups) का प्रदर्शन अब भी जारी है. इस बीच गुरूवार को शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditiya Singh) एचपीयू (HPU) कैंपस पहुंचे और एनएसएसयूआई के प्रदर्शन में शामिल हुए और वाइस चांसलर से मुलाकात की. एसएफआई ने कैंपस में जमकर प्रदर्शन किया.

विक्रमादित्य बोले-आरएसएस का अखाड़ा बन गया कैंपस

एक तरफ विक्रामादित्य सिंह ने कहा कि वो कैंपस में राजनीति करने नहीं आए हैं, छात्रों की मांगो का समर्थन करते हुए सभी छात्र संगठनों का साथ देने आए हैं, लेकिन दूसरी तरफ सियासी तीर छोड़ने से भी नहीं चूके. उन्होंने कहा कि एचपीयू अब पूरी तरह से आरएसएस का अखाड़ा बन गया है और अयोग्य लोग प्रशासन को चला रहे हैं. भाजपा का नाम लिए बगैर कई निशाने साधे. साथ ही कहा कि कांग्रेस सरकार ने हमेशा योग्य व्यक्ति को नियुक्ति दी है. इसके अलावा छात्रों की सभी मांगो का समर्थन करने और साथ खड़े रहने की भी बात कही.  इस दौरान एचपीयू की ईसी के पूर्व सदस्य और कांग्रेस नेता हरिश जनारथा भी उनके साथ रहे, यूंथ कांग्रेस के लीडर वीरेंद्र बांशटू भी मौजूद रहे.



HPU में प्रदर्शन करते एनएसयूआई कार्यकर्ता.

विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि इस मुद्दे को आने वाले विधानसभा सत्र के दौरान भी उठाएंगे. विवि के संबंध में छात्रों के मांगों और अन्य मुद्दों को सदन में उठाया जाएगा. प्रदर्शन के बाद कांग्रेस विधायक ने वाइस चांसलर प्रोफेसर सिकंदर कुमार के साथ मुलाकात की और इस मुद्दे पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि वीसी ने आश्वासन दिया है कि वो प्रवेश परीक्षा करवाने के विषय में सभी पहलूओं पर विचार कर रहे हैं, यूजीसी के निर्देशों को लेकर भी जानकारी दी गई. विक्रमादित्य ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि छात्रों के हित्त में फैसला लिया जाएगा.

एचपीयू में प्रदर्शन.


वीसी ने फिर बनाई मीडिया से दूरी, छात्र संगठनों ने भरी हुंकार

इस बीच वाइस चांसलर ने एक बार फिर से मीडिया से दूरी बनाए रखी, मीडियाकर्मियों से मिलने से इनकार कर दिया. वहीं दूसरी ओर परिसर में एनएसएयूआई और एसएफआई ने प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की. एनएसयूआई और एसएफआई ने साफ कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं की जाएंगी तब तक आंदोलन वापस नहीं लिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज