• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल में 6 माह में 466 सुसाइड, पुलिस चलाएगी विशेष अभियान

हिमाचल में 6 माह में 466 सुसाइड, पुलिस चलाएगी विशेष अभियान

मंडी में नाबालिग ने किया सुसाइड.

मंडी में नाबालिग ने किया सुसाइड.

डीजीपी ने कहा कि पुलिस ने आईआईटी मंडी और सांख्यिकी विभाग से इन आंकड़ों का अध्ययन करवाया, जिससे हर कोई हैरान रह गया. सुसाइड करने वालों में 13 साल से लेकर 58 साल तक के लोग हैं.

  • Share this:
शिमला. देवभूमि हिमाचल में आत्महत्याओं (Suicide) के मामलों में काफी इजाफा हो रहा है. लगातार बढ़ते मामलों पर अब हिमाचल पुलिस (Himachal Police) गंभीर हो गई है. News-18 सुसाइड की बढ़ती प्रवृति और लोगों के मानसिक स्वास्थ्य का मुद्दा प्रमुख्ता से उठा रहा है. अब हिमाचल पुलिस के मुखिया भी गंभीर नजर आ रहे हैं. डीजीपी संजय कुंडू (DGP Sanjay Kundu) सुसाइड के मसले पर विशेष अभियान शुरू करेंगे. सूबे में बीते छह माह में 466 सुसाइड केस रिपोर्ट हुए हैं.

एक सप्ताह में 16 केस
आंकड़ों के अनुसार, हिमाचल में इस साल अब तक हर 12 घंटे के बाद सुसाइड का मामला सामने आया है. जनवरी से जुलाई तक आत्महत्या के कुल 466 मामले हैं. 291 पुरुष और 175 महिलाओं ने सुसाइड किया है. हिमाचल पुलिस के मुताबिक एक सप्ताह में आत्महत्या का औसत 16.64 फीसदी है, यानी हर हफ्ते 16 से ज्यादा लोगों ने सुसाइड किया, जबकि साल 2019 में ये एवरेज 13.6 प्रतिशत थी.

कोरोना काल में भारी इजाफा
कोरोना संकट में बढ़े सुसाइड की बात करें तो, इनमें अप्रत्याशित रूप से बढ़ौतरी हुई है. अप्रैल में 47 सुसाइड, मई में 89, जून में 112 और जुलाई में 101 सुसाइड हुए हैं. इन चार महीनों के भीतर ही आत्महत्या के कुल 349 मामले दर्ज हुए हैं.

क्या बोले डीजीपी
हिमाचल प्रदेश के डीजीपी संजय कुंडू के मुताबिक, कारण अलग-अलग जरूर हैं लेकिन ये विषय बेहद संवेदशील है. महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध काफी हद तक जिम्मेवार हैं, जिन्हें रोकना होगा. जिन महिलाओं ने आत्महत्याएं की हैं, वो ज्यादातर हाउस वाइफ हैं. आत्महत्या के लिए उकसाने वाली आईपीसी की धारा के तहत, जो मामले दर्ज किए गए हैं, उनमें महिलाओं की संख्या 35 है जबकि पुरूषों की संख्या 20 है. पुरूषों में दिहाड़ी मजदूरों के सुसाइड केस ज्यादा हैं.

हैरान करने वाले मामले
डीजीपी ने कहा कि पुलिस ने आईआईटी मंडी और सांख्यिकी विभाग से इन आंकड़ों का अध्ययन करवाया, जिससे हर कोई हैरान रह गया. सुसाइड करने वालों में 13 साल से लेकर 58 साल तक के लोग हैं. अब समय आ गया है कि लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर दिया जाए. इसके लिए पुलिस सरकार और स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर विशेष अभियान चलाएगी, जिसका खाका तैयार किया जा रहा है. एक हेल्पलाइन शुरू करने पर भी विचार किया जा रहा है.

डीजीपी ने लोगों से अपील
डीजीपी ने लोगों से अपील की है कि जब भी किसी भी तरह का दबाव महसूस हो, परेशानी हो या अन्य किसी भी तरह की जटिल मुश्किल उसको अपने नजदीकी लोगों से साझा करें. पुलिस की मदद की जरूरत हो तो कभी भी किसी भी समय संपर्क करें. News-18 भी आपसे यही अपील करता है कि खुद को कभी अकेला और कमजोर न समझें, परेशानी बताएं छुपाएं, नहीं. ऐसी कोई मुश्किल नहीं है जो हल न हो सके.जान देना समस्या का समाधान कभी हो ही नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज