कामचोर कहे जाने पर उग्र हुए सफाई कर्मी, निगम आयुक्त से की पार्षद की शिकायत

News18 Himachal Pradesh
Updated: August 31, 2019, 11:55 PM IST
कामचोर कहे जाने पर उग्र हुए सफाई कर्मी, निगम आयुक्त से की पार्षद की शिकायत
एमसी शिमला के सफाई कर्मचारियों ने पार्षदों के खिलाफ खोला मोर्चा

एमसी सफाई कर्मचारी यूनियन के सचिव बलवीर कुमार का कहना है कि निगम की मासिक बैठक में किसी पार्षद ने सफाई कर्मचारियों को कामचोर कहा है, जिसका वे पूरी तरह से विरोध करते हैं.

  • Share this:
नगर निगम शिमला (Municipal Corporation of Shimla) आए दिन किसी न किसी कारण से सुर्ख़ियों में नजर आता है. नया मामला निगम पार्षदों (Corporator)  और निगम के सफाई कर्मचारियों (Sweepers) के बीच का है, एमसी के सफाई कर्मचारियों ने निगम पार्षदों पर अभद्र टिप्पणी करने का आरोप लगाया है. मामले को लेकर एमसी सफाई कर्मचारी यूनियन ने काम काज ठप करने की चेतावनी दी है. यूनियन का कहना है कि निगम के किसी पार्षद ने किसी सफाई दफादार के साथ अभद्र व्यबहार किया है. पार्षद ने सफाई कर्मचारी को कामचोर तक कहा है. इसका एमसी यूनियन ने विरोध करते हुए पार्षद से माफ़ी मांगने की मांग की है.

यूनियन के सचिव बलवीर कुमार का कहना है कि निगम की मासिक बैठक में किसी पार्षद ने सफाई कर्मचारियों को कामचोर कहा है, जिसका वे पूरी तरह से विरोध करते हैं. उन्होंने कहा कि शहर में सफाई व्यवस्था का जिम्मा सम्भाल रहे सफाई कर्मचारी दिन रात सातों दिन सेवा करते हैं, लेकिन निगम के पार्षद फिर भी उनके कामकाज पर सवालिया निशान लगाकर उन्हें ही कामचोर कहते हैं.

वार्ड पार्षद से माफी मांगने की मांग

इस मामले को लेकर यूनियन ने निगम आयुक्त (corporator Commissioner)  के समक्ष अपना विरोध जताया है और जल्द इस मामले को सुलझाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि अगर वार्ड पार्षद माफ़ी नहीं मांगते हैं तो सफाई कर्मचारी यूनियन कामकाज भी ठप कर सकते हैं. वहीं निगम आयुक्त ने यूनियन को आश्वासन देते हुए दोनों पक्षों के बीच मामला सुलझाने की बात कही है.

ये भी पढ़ें - प्रदेश मंत्रिमंडल ने लिए अहम फैसले, सृजित होंगे अनेक पद

ये भी पढ़ें - यात्रा भत्ता बढ़ोतरी:भीख में जुटाए पैसे सरकार को भेजे जाएंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 11:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...