सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों की निगरानी करेंगे ये तीन रिटायर्ड IAS अफसर

हिमाचल प्रदेश में यह पहला मौका है, जब रिटायर्ड अधिकारियों की कमेटी बनाकर फ्लैगशिप कार्यक्रमों की समीक्षा की जिम्मेदारी दी गई है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 12, 2018, 1:48 PM IST
सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों की निगरानी करेंगे ये तीन रिटायर्ड IAS अफसर
कैबिनेट की बैठक में सीएम जयराम ठाकुर
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 12, 2018, 1:48 PM IST
केंद्र और राज्य सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों की निगरानी का जिम्मा तीन रिटायर्ड आईएएस अधिकारियों को सौंपा गया है. सरकार ने केंद्र की तीन योजनाओं की समय-समय पर समीक्षा करने का इन अधिकारियों का जिम्मा सौंप दिया है.

कमेटी में  आशा स्वरूप, राजवंत संधू और दीपक सानन शामिल

हिमाचल प्रदेश में यह पहला मौका है, जब रिटायर्ड अधिकारियों की कमेटी बनाकर फ्लैगशिप कार्यक्रमों की समीक्षा की जिम्मेदारी दी गई है. मुख्य सचिव विनीत चौधरी की ओर से जारी अधिसूचना में तीन सदस्यीय कमेटी में पूर्व मुख्य सचिव आशा स्वरूप, राजवंत संधू और पूर्व प्रधान सलाहकार दीपक सानन को लिया गया है.

कमेटी को 25 सितंबर से पहले योजनाओं की रिपोर्ट सीएम को सौंपनी होगी

पहले चरण में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कौशल विकास योजना और स्वच्छ भारत अभियान की समीक्षा होगी. इस कमेटी को 25 सितंबर से पहले सरकार को योजनाओं की रिपोर्ट देनी होगी. गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने भी हाल ही में प्रदेश में केंद्रीय योजनाओं की लाभार्थियों की लिस्ट तैयार करके केंद्र को भेजने के निर्देश दिए हैं. ऐसे में यह कमेटी भी अब प्रदेश में देखेगी कि इन तीन योजनाओं को कितनी गंभीरता से लागू किया गया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर