तिब्बती यूथ कांग्रेस का चीन पर हल्ला बोल, शिमला से लेकर मनाली तक प्रदर्शन
Shimla News in Hindi

तिब्बती यूथ कांग्रेस का चीन पर हल्ला बोल, शिमला से लेकर मनाली तक प्रदर्शन
धर्मशाला में प्रदर्शन करते हुए तिब्बती समुदाय के लोग.

तिब्बत यूथ कांग्रेस के सदस्य सोनम गाम्फू ने कहा कि वह अब कभी चाईनीज का सामान का ना प्रयोग करेंगे और ना ही इसे बेचेंगे.

  • Share this:
शिमला/धर्मशाला/ मनाली. भारत चीन विवाद के बाद मेड इन चाइना सामान के बहिष्कार को लेकर हिमाचल में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं. शुक्रवार को शिमला से लेकर मनाली तक चीन के खिलाफ आवाज बुलंद की गई है.

तिब्बतियन यूथ कांग्रेस (टीवाईसी) ने पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज में चीन पर हल्ला बोला. टीवाईसी के बैनर तले आयोजित प्रदर्शन में निर्वासित सरकार के सांसदों, टीवाईसी कार्यकर्ताओं, निर्वासित तिब्बतियों और भारत-तिब्बत मैत्री संघ पदाधिकारियों ने भाग लिया. इस दौरान जहां कोरोना की वजह से विश्व के विभिन्न देशों में हुई लोगों की मौत के लिए चीन को जिम्मेवार ठहराया गया, वहीं विश्व भर से चीन निर्मित सामान के बहिष्कार का आह्वान किया गया.

पुतले और चीनी सामान फूंका
टीवाईसी कार्यकर्ताओं ने चीन के राष्ट्रपति के पुतले के साथ चीन निर्मित सामान को भी जलाया. मैक्लोडगंज के मुख्य चौक पर किए गए प्रदर्शन में निर्वासित तिब्बतियों का चीन के खिलाफ गुस्सा फूटा. टीवाईसी की ओर से भारत माता की जय और दलाईलामा के नारे लगाए गएय टीवाईसी पदाधिकारियों का कहना है कि चीन हमेशा से विस्तारवाद की नीति अपनाता रहा है, जिसके चलते चीन ने तिब्बत पर अवैध कब्जा किया और भारत के खिलाफ साजिशें रच रहा है. इस दौरान टीवाईसी के बैनर तले मैक्लोडगंज में चीन के खिलाफ जुलूस भी निकाला गया. तिब्बतियन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष गोम्पो डोंडुप ने कहा कि चीन की वजह से आज कोरोना के चलते विश्व के कई देश प्रभावित हुए हैं. ऐसे में टीवाईसी चीनी सामान के बहिष्कार का आह्वान कर रही है.
शिमला में भी प्रदर्शन


शिमला में भी तिब्बती युवा कांग्रेस संस्था ने रोष प्रदर्शन किया. धर्मशाला में स्थापित तिब्बती युवा कांग्रेस सबसे बड़ी तिब्बती गैर-संस्था है. जो तिब्बत की मुक्ति पूर्ण स्वतंत्रता के लिए कार्य कर रही है. संस्था की ओर से 16 जून को धर्मशाला से ग्लोबल मूवमेंट ऑफ बॉयकॉट मेड इन चाइना अभियान चलाया गया था. इसका समापन आज शिमला में किया गया. तिब्बती समुदाय के लोगों ने चाईना के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और लोगों से चाईनीज़ प्रोडक्ट का बहिष्कार करने का आह्वान किया.
धर्मशाला में प्रदर्शन के दौरान तिब्बती महिलाएं.
धर्मशाला में प्रदर्शन के दौरान तिब्बती महिलाएं.


मनाली में तिब्बतियन वूमेन एसोसिएशन ने निकाली रैली
तिब्बतियन यूथ कांग्रेस और वूमेन एसोसिएशन ने मनाली में आक्रोश रैली निकाली और चीन के राष्ट्रपति का पुतला जलाया गया. साथ ही चाईनीज सामान का बहिष्कार करने की भी बात कही. इस दौरान चाईनीज सामान तोड़कर रोष प्रकट किया. वुमेन एसोसिएशन की सदस्य कुन्चौक लहमो ने कहा कि मनाली में चीन के खिलाफ रोष रैली निकाली गई और चीन के सामान का बहिष्कार भी किया गया. तिब्बत यूथ कांग्रेस के सदस्य सोनम गाम्फू ने कहा कि वह अब कभी चाईनीज का सामान का ना प्रयोग करेंगे और ना ही इसे बेचेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading