Home /News /himachal-pradesh /

Tokyo Paralympic: सिल्वर मेडलिस्ट निषाद कुमार को 1 करोड़ रुपए देगी हिमाचल सरकार

Tokyo Paralympic: सिल्वर मेडलिस्ट निषाद कुमार को 1 करोड़ रुपए देगी हिमाचल सरकार

हिमाचल से हैं टोक्यो पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले एथलीट निषाद

हिमाचल से हैं टोक्यो पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले एथलीट निषाद

Silver Medalist Nishad Kumar: निषाद कुमार ने टी-47 कैटेगिरी में 2.09 मीटर जंप के साथ दूसरा स्थान हासिल किया. निषाद ने इसी साल दुबई में हुई फाजा विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री में हाई जंप टी-47 कैटेगिरी में गोल्ड मेडल जीता था.

    शिमला. हिमाचल सरकार ने टोक्यो पैरालंपिक-2020 में सिल्वर मेडल (Silver Medal) जीतने वाले हिमाचल के पैरा एथलीट निषाद कुमार (Nishad Kumar) को पुरस्कार के तौर एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की है. निषाद ऊना ज़िला के अम्ब उपमंडल की ग्राम पंचायत कटोहड़ कलां के बदाऊं गांव के रहने वाले हैं. उन्होंने रविवार को पुरुष वर्ग में हाई जंप में सिल्वर मेडल जीता है.

    मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने निषाद व उनके कोच व परिवार के लोगों को बधाई देते हुए सरकार की ओर से एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की. पूर्व में निषाद को तैयारियों के लिए भी हिमाचल सरकार ने 5 लाख रुपए प्रदान किए थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें खुशी है कि हिमाचल के बेटे ने अपने शानदार प्रदर्शन से भारत का नाम रोशन किया है. उनकी उपलब्धि प्रदेश के सभी खिलाड़ियों के लिए प्रेरणादायक है.

    गांव में खुशी का माहौल
    बता दें कि टोक्यो पैरालंपिक में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाले निषाद कुमार हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना के उपमंडल अंब के छोटे से गांव बदाऊं के रहने वाले हैं. 22 वर्षीय निषाद कुमार ने एशियन चैंपियनशिप में भी रिकॉर्ड बनाया हैं. उन्होंने पैरालिंपिक खेलों की शुरुआत से पहले बेंगलुरु के कोचिंग कैंप में महीनों तक कड़ी मेहनत की थी. इस अहम मुकाबले से पहले उनके गांव में उनके लिए लगातार दुआएं मांगी जा रही थीं. इस मेडल के साथ ही गांव में खुशियों का माहौल है. गांव के लोग मिठाई बांटकर नााच-गा कर निषाद की जीत का जश्न मना रहे हैं.

    पिता करते हैं राज मिस्त्री का काम
    गौरतलब है कि निषाद कुमार के पिता रशपाल राज मिस्त्री का काम करते हैं, मां पुष्पा देवी गृहिणी है. एक बड़ी बहन रमा देवी है, जिन्होंने बी कॉम किया है. निषाद कुमार को बचपन से ही खेलों में रुचि थी. निषाद जब पांचवीं कक्षा में थे, तब से ही हाई जंप की प्रैक्टिस शुरू कर दी थी, नतीजतन आज पैरालिम्पिक्स में निषाद ने सिल्वर मेडल हासिल किया है.

    Tags: Paralympics 2020, Tokyo Paralympics, Tokyo Paralympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर