COVID-19: डूबने की कगार पर हिमाचल की टूरिज्म इंडस्ट्री, CM से मांगा राहत पैकेज
Shimla News in Hindi

COVID-19: डूबने की कगार पर हिमाचल की टूरिज्म इंडस्ट्री, CM से मांगा राहत पैकेज
शिमला का मॉल रोड. (FILE PHOTO)

Tourism industry in Himachal: संघ के अध्यक्ष संजय सूद ने बताया कि कोरोना के चलते पर्यटन कारोबारियों को काफी नुकसान हुआ है. ऐसे में अगर सरकार की तरफ से रियायत मिल जाती है तो उन्हें कुछ हद तक राहत मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 3:19 PM IST
  • Share this:
शिमला. कोरोना वायरस (Corona Virus) के चलते देश की आर्थिकी को काफी नुकसान हुआ है. वहीं पर्यटन व्यवसाय को भी बड़ा झटका लगा है. हिमाचल प्रदेश में आय का बहुत बड़ा हिस्सा पर्यटन (Tourism) कारोबार से ही आता है. ऐसे में कोरोना के चलते हिमाचल में पर्यटन कारोबारियों को बड़ा झटका लगा है. पिछले तीन साल हिमाचल (Himachal Pradesh) में पर्यटन के लिए कुछ अच्छे नहीं रहे हैं. ऐसे में कोरोना के चलते पर्यटन पूरी तरह से ठप हो गया है. पर्यटन कारोबारियों को प्रदेश सरकार (Himachal Govt) से इस संकट की घडी में मदद की उम्मीद है.

कंगाली में आटा गीला
शिमला की होटल एंड रेस्टोरेंट ऐसोसिएशन आज अपनी मांगों को लेकर प्रदेश मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिली. संघ की मांग है कि बिजली, पानी और गारबेज के बिलों में रियायत दी जाए. पर्यटन कारोबार पूरी तहर से ठप पड़ा है और व्यवसाय में करोड़ों का नुकसान हो चुका है. इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब समर सीजन पूरी तरह से खाली गया है और आय शून्य हुई है. ऐसे में लाखों में बिजली के बिल और अन्य चार्जिज देना कंगाली में आटा गिला होने वाली बात है. विभिन्न बिलों और फीस में रियात दी जाए इसी मांग को लेकर एसोसिएशन मुख्यमंत्री से मिली.

सीएम ने दिया आश्वासन
मुख्यमंत्री जयराम ने आश्वासन देते हुए कहा कि सरकार इस समय कारोबारियों को पूरा सहयोग करेंगी. संघ के अध्यक्ष संजय सूद ने बताया कि कोरोना के चलते पर्यटन कारोबारियों को काफी नुकसान हुआ है. ऐसे में अगर सरकार की तरफ से रियायत मिल जाती है तो उन्हें कुछ हद तक राहत मिलेगी. क्योंकि होटल्स में काम कर रहे कर्मचारियों की हर मदद की जा रही है. उन्हें समय पर वेतन और अन्य सुविधाएं भी दी जा रही हैं. लेकिन होटल्स में आय नहीं हो पा रही है. ऐसे में ज्यादा वक्त तक सैलरी दे पाना भी संभव नहीं हो पाएगा. ऐसे में सरकार से सहयोग का आश्वासन मिलने पर राहत की एक उम्मीद जरूर बंधी है.



ये भी पढ़ें: हिमाचल के किन्नौर के पांगी गाँव में टूटा पहाड़, जान बचाकर भागे लोग

जब अभिनेता इरफान खान ने बद्दी में प्रशंसकों के साथ देखी ‘पान सिंह तोमर’

COVID-19: हिमाचल की जेल में बंद ISIS आंतकी साथी कैदियों संग बना रहा मास्क
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज