IGMC में इलाज कराना होगा महंगा, 20 से 30 फीसदी तक टेस्ट फीस बढ़ाने का प्रस्ताव

इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रोगी कल्याण समिति के खाली खजाने को भरने के लिए स्वास्थ्य संबंधित टेस्टों की फीस बढ़ाई जाएगी.

Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 8, 2019, 7:12 PM IST
IGMC में इलाज कराना होगा महंगा, 20 से 30 फीसदी तक टेस्ट फीस बढ़ाने का प्रस्ताव
IGMC, शिमला - रोगी कल्याण समिति ने बढ़ाई टेस्ट की दरें
Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 8, 2019, 7:12 PM IST
आईजीएमसी (Indira Gandhi Medical College) अस्पताल में रोगी कल्याण समिति के खाली खजाने को भरने के लिए स्वास्थ्य संबंधित टेस्टों की फीस बढ़ाई जाएगी. स्वास्थ्य संबंधित टेस्ट फीस बढ़ाने के लिए अस्पताल प्रबंधन ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा है. अस्पताल में होने वाले विभिन्न तरह की टेस्ट दरों में 20 से 30 फीसदी तक की वृद्धि की जा सकती है. इसका सीधा असर अस्पताल आने वाले मरीजों की जेब पर पड़ेगा. प्रशासन द्वारा अस्पताल में अल्ट्रा साउंड की फीस को 60 रुपए से बढ़ाकर 100 रुपए और एक्स-रे की फीस 15 रुपए से बढ़ाकर 50 रुपये करने की मंजूरी मांगी गई है. इसी तरह दूसरे टेस्ट की फीस का प्रारूप भी तैयार किया गया है. हालांकि पहले की तरह बीपीएल परिवारों और हेल्थ कार्ड धारकों को कोई भी फीस नहीं देनी पड़ेगी.

मुफ्त में होंगे गरीब व असहाय लोगों के टेस्ट

शिमला में आईजीएमसी के मुख्य वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. जनक राज ने कहा कि टेस्ट फीस में बढ़ोतरी सरकार की मंजूरी के बाद ही लागू की जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकार के समक्ष प्रस्ताव भेजा गया है. उन्होंने बताया कि साल 2001 के बाद से आज तक किसी भी टेस्ट की फीस में बढ़ोतरी नहीं की गई है. लेकिन आज के आधुनिक समय और परिस्थिति को देखते हुए टेस्ट की दरों को बढ़ाने पर विचार किया गया है.

डॉ. जनक राज ने कहा कि जो टेस्ट दरें बढ़ाने की योजना है उसका असर किसी भी गरीब और असहाय लोगों पर नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा कि गरीब और असहाय लोगों के लिए सभी तरह के टेस्ट फ्री में करवाए जाएंगे.

ये भी पढ़ें - बिगड़ती जा रही है मनाली की खूबसरती,पर्यटक छोड़ जा रहे कूड़ा

ये भी पढ़ें - जानिए क्यों, 10 हजार हिमाचलियों ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी
First published: July 8, 2019, 7:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...