कोटखाई गैंगरेप: ‘आरोपी सूरज की बॉडी पर 2 घंटे से दो दिन तक पुरानी थी चोटें’

सूरज की कोटखाई थाने में 18 जुलाई की रात को हत्या कर दी गई थी. आरोप है कि राजू की सूरज से बहस हुई और उसके बाद राजू ने उसकी हत्या कर दी. लेकिन बाद में सीबीआई ने इस मामले में पुलिस वालों को गिरफ्तार किया है. सीबीआई ने इन दोनों मामलों में केस दर्ज किया है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: July 2, 2019, 1:20 PM IST
कोटखाई गैंगरेप: ‘आरोपी सूरज की बॉडी पर 2 घंटे से दो दिन तक पुरानी थी चोटें’
4 जुलाई 2017 को कोटखाई की एक छात्रा स्कूल से लौटते वक्त लापता हो गई थी. इसके बाद 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में बिना कपड़ों के पीड़िता की लाश मिली थी. छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी.
News18 Himachal Pradesh
Updated: July 2, 2019, 1:20 PM IST
हिमाचल की राजधानी शिमला के कोटखाई गैंगरेप और मर्डर केस से जुड़े सूरज लॉकअप मर्डर केस में चंडीगढ़ की सीबीआई कोर्ट में सोमवार सुनवाई हुई. इस मामले में सूरज का पोस्टमार्टम करने वाले दो डॉक्टरों के बयान दर्ज हुए.

डॉक्टरों के बयानों से आरोपी पुलिस अफसरों के लिए मुश्किलें बढ़ने वाली है. क्योंकि एम्स, दिल्ली के डॉ. अभिषेक शर्मा और आईजीएमसी, शिमला के पीयूष कपिला ने कहा कि सूरज के शरीर पर जो चोटें थी, वे दो घंटे से दो दिन तक पुरानी थी. सूरज की मौत 18 जुलाई 2017 को हुई थी. उसका पहला पोस्टमार्टम अगले दिन 19 जुलाई 2017 को हुआ था. यानी सूरज को जो चोटें लगी थी, वे पुलिस कस्टडी में ही लगी थी. डॉक्टरों ने ये भी कहा कि चोटें एक्सीडेंटल नहीं हो सकती हैं. सूरज को पूरे शरीर में चोटें लगी थीं और इस वजह से उसकी मौत हुई थी.

इन पर है आरोप
पुलिस अफसरों पर सूरज की पिटाई का आरोप है. इसमें आईजीपी जहूर जैदी, एसपी डीडब्ल्यू नेगी, ठियोग डीएसपी मनोज जोशी, कोटखाई के पूर्व एसएचओ राजिंदर सिंह, एएसआई दीपचंद, हेड कांस्टेबल सूरत सिंह, मोहन सिंह, रफिक अली और कांस्टेबल रंजीत को आरोपी हैं.

ये है पूरा मामला
4 जुलाई 2017 को कोटखाई की एक छात्रा स्कूल से लौटते वक्त लापता हो गई थी. इसके बाद 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में बिना कपड़ों के पीड़िता की लाश मिली थी. छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी. मामले में छह आरोपी पकड़े गए थे. इनमें राजेंद्र सिंह उर्फ राजू, हलाइला गांव, सुभाष बिस्ट (42) गढ़वाल, सूरज सिंह (29) और लोकजन उर्फ छोटू (19) नेपाल और दीपक (38) पौड़ी गढ़वाल के कोटद्वार शामिल थे. इनमें से सूरज की कोटखाई थाने में 18 जुलाई की रात को हत्या कर दी गई थी. आरोप है कि राजू की सूरज से बहस हुई और उसके बाद राजू ने उसकी हत्या कर दी. सीबीआई ने इन दोनों मामलों में केस दर्ज किया है.

ये भी पढ़ें: शिमला में महिला के साथ तीन नकाबपोशों ने किया गैंगरेप
Loading...

नर्सिंग कॉलेज में छात्रा से रेप की कोशिश, आरोपी कुक की पिटाई
First published: July 2, 2019, 12:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...