Home /News /himachal-pradesh /

शिमलाः दो पंचायतों का एक ही पंचायत भवन, दोनों के प्रतिनिधि आमने-सामने, जड़ा ताला

शिमलाः दो पंचायतों का एक ही पंचायत भवन, दोनों के प्रतिनिधि आमने-सामने, जड़ा ताला

पुरानी पंचायत के प्रधान पर पंचायत भवन पर कब्जा करने का आरोप लगा है.

पुरानी पंचायत के प्रधान पर पंचायत भवन पर कब्जा करने का आरोप लगा है.

Clash over Panchayat Bhawan in Shimla: साल 2021 में 29 जुलाई को जिला पंचायत अधिकारी ने आदेश दिए कि जब तक नवगठित सांगटी पंचायत का भवन नहीं बन जाता तब तक सांगटी पंचायत का कार्यलय भी नेरी पंचायत ही होगा. जिला पंचायत अधिकारी के आदेश के बाद दोनों पंचायतों का कार्यलय इसी नेरी पंचायत में ही था, लेकिन दो दिन पहले नेरी पंचायत के प्रधान ने पंचायत कार्यलय में ताला जड़ दिया. पंचायत कार्यलय में ताला बदलने का पता तब चला, जब सांगटी पंचायत के प्रधान राहुल कश्यप,उप प्रधान मनोज शर्मा, दोनों ही पंचायतों के सचिव और पंचायत के सदस्य चौकीदार समेत पंचायत कार्यलय पंहुचे.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश में नवगठित पंचायतों के गठन को लेकर करीब एक साल पूरा हो गया है. ऐसे में नव गठित पंचायतों का कार्यालय और कामकाज सम्बंधित पंचायतों में ही चल रहा है. एक साल बीत जाने के बाद भी न तो पंचायतों के लिए लिए अलग से कर्मचारियों की नियुक्ति हुई और न ही पंचायत भवन का निर्माण हो सका. अब ऐसे में नवगठित पंचायतों को पुराने पंचायत घरों में ही मासिक बैठकों से लेकर ग्राम सभा की बैठकें करनी पड़ रही है.

ऐसे में पंचायत घर पर पुरानी पंचायत के प्रधान पर पंचायत भवन पर कब्जा करने का आरोप लगा है और पंचायत प्रधान ने पंचायत भवन के मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया. आलम यह है कि नवगठित पंचायत प्रतिनिधियों को खुले आसमान के नीचे मासिक बैठक करनी पड़ी.मामला  राजधानी शिमला के साथ लगती पंचायत सांगटी सनहोग का है.

दरअसल, सेरी में मौजूद नेरी और सांगटी सनहोग पंचायत का एक ही पंचायत घर है, जिस पर नेरी पंचायत प्रधान ने ताला जड़ दिया है.इससे नवगठित पंचायत प्रतिनिधियों को खुले आसमान के नीचे मासिक बैठक करनी पड़ी.सांगटी सनहोग पंचायत प्रतिनिधियों ने नेरी पंचायत प्रधान पर पंचायत घर पर कब्जा करने का आरोप लगाया है जिसकी शिकायत उन्होंने डीसी शिमला और जिला पंचायत अधिकारी के समक्ष की है और उचित कार्रवाई की मांग की है.

 नेरी पंचायत प्रधान ने पंचायत घर पर किया कब्जा
पंचायत प्रधान राहुल कश्यप और अन्य प्रतिनिधियों ने कहा कि नेरी पंचायत और नवगठित सांगटी पचायत दोनों का कार्यालय सेरी स्थित पंचायत कार्यालय से चल रहा है. पहले नेरी और सांगटी क्षेत्र एक ही पंचायत हुआ करती था. पंचायत चुनाव से पहले सांगटी पंचायत का अलग से बनाई गई.

नवगठित नई पंचायत के पास अपना पंचायत भवन नहीं था तो इसलिए नवगठित पंचायत के कार्यालय को नेरी पंचायत से ही चलाने के फरमान जारी हुए. साल 2021 में  29 जुलाई को जिला पंचायत अधिकारी ने आदेश दिए कि जब तक नवगठित सांगटी पंचायत का भवन नहीं बन जाता तब तक सांगटी पंचायत का कार्यलय भी नेरी पंचायत ही होगा. जिला पंचायत अधिकारी के आदेश के बाद दोनों पंचायतों का कार्यलय इसी नेरी पंचायत में ही था,  लेकिन दो दिन पहले नेरी पंचायत के प्रधान ने पंचायत कार्यलय में ताला जड़ दिया. पंचायत कार्यलय में ताला बदलने का पता तब चला, जब सांगटी पंचायत के प्रधान राहुल कश्यप,उप प्रधान मनोज शर्मा, दोनों ही पंचायतों के सचिव और पंचायत के सदस्य चौकीदार समेत पंचायत कार्यलय पंहुचे.
पंचायत भवन को लेकर अब आंदोलन पर उतरेंगे पंचायतवासी
नेरी पंचायत प्रधान के इस तरह के तानाशाह रवैए के कारण पंचायत के कार्य करना मुश्किल हो गया है. नेरी पंचायत कार्यलय में सांगटी पंचायत कारिकार्ड भी है अगर किसी रिकॉर्ड में छेड़छाड़ हुई तो उसके लिए नेरी पंचायत के प्रधान की जिम्मेवारी होगी .इस सम्बंध में डीसी शिमला, जिला पंचायत अधिकारी को भी शिकायत की गई है लेकिन कोई भी कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई अब इस मामले पर पंचायत वासी जल्द ही आंदोलन करेंगे.

Tags: Himachal pradesh, Shimla News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर