लाइव टीवी

कुल्लू में भू-भू जोत और जलोड़ी टनल को हरी झंडी, 12 महीने बना रहेगा संपर्क
Shimla News in Hindi

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 4, 2020, 1:49 PM IST
कुल्लू में भू-भू जोत और जलोड़ी टनल को हरी झंडी, 12 महीने बना रहेगा संपर्क
कुल्लू में जलोड़ी दर्रे पर भारी हिमपात होता है. (FILE PHOTO)

Tunnel At Jalori Pass, Kullu: फिलहाल, जलोड़ी दर्रा भारी बर्फबारी के चलते बंद है. इसके चलते आनी-निरमंड के लोगों को कामों के लिए मंडी जिले के करसोग होते हुए कुल्लू जाना पड़ता है. बता दें कि जलोड़ी दर्रा गर्मियों में खुलेगा.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कुल्लू (Kullu) जिले के भू-भू जोत टनल और जलोड़ी जोत टनल (Jalori Pass Tunnel) को भूतल एवं परिवहन मंत्रालय ने हरी झंडी दे दी है. इसके अलावा, पठानकोट-मंडी फोरलेन का रास्ता भी साफ हो गया है.

इस बाबत दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की अध्यक्षता में एक बैठक हुई, जिसमें मंडी के सांसद रामस्वरूप शर्मा, कांगड़ा के सांसद किशन कपूर और शिमला के सांसद सुरेश कश्यप भी मौजूद रहे. हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर के प्रधान सचिव संजय कुंडू और संबंधित विभागों के अधिकारी भी इसमें मौजूद रहे.

यह आदेश दिए
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पठानकोट-मंडी फोरलेन निर्माण जल्द शुरू करने के निर्देश दिए. इससे पठानकोट से मंडी के बीच आवाजाही और सरल होगी. इसके अलावा मंडी में 60 नेशनल हाईवे के निर्माण कार्य में तेजी लाने के भी निर्देश दिए.

सर्दियों में होती है भारी बर्फबारी
बहुप्रतिक्षित भू-भू जोत टनल और जलोड़ी टनल के निर्माण को भी हरी झंडी मिली है. भू-भू जोत टनल बनने से मंडी के जोगिंद्रनगर और कुल्लू के बीच 60 किलोमीटर का फासला कम होगा. इससे सेना को भी वैकल्पिक मार्ग मिल जाएगा. वहीं, जलोड़ी जोत टनल से आनी-निरमंड का जिला मुख्यालय कुल्लू से 12 महीने संपर्क बना रहेगा. क्योंकि सर्दियों में जलोड़ी जोत पर बर्फ गिरने के कारण यह क्षेत्र जिला मुख्यालय कुल्लू से पूरी तरह कट जाता है और लोगों को अपने विभागीय कार्य या दूसरे कामों के लिए मंडी के करसोग क्षेत्र से होते हुए कई किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता है.

दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिलते हिमाचल के सांसद.
दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिलते हिमाचल के सांसद.
जलोड़ी दर्रे पर भारी हिमपात
फिलहाल, जलोड़ी दर्रा भारी बर्फबारी के चलते बंद है. इसके चलते आनी-निरमंड के लोगों को कामों के लिए मंडी जिले के करसोग होते हुए कुल्लू जाना पड़ता है. बता दें कि जलोड़ी दर्रा गर्मियों में खुलेगा.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में मौसम: शिमला में छाए बादल, सूबे में फिर बारिश-बर्फबारी के आसार

VIDEO: हिमाचल में टोल प्लाजा पर स्कॉर्पियो सवारों ने कर्मी को घसीटा, फिर पीटा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 1:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर