कांग्रेस कार्यकारिणी: वीरभद्र बोले- EVM में छेड़छाड़ की वजह से हारे

वीरभद्र सिंह, पूर्व सीएम ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए कहा कि भाजपा की जीत संदेह के घेरे में है. मैंने अपने राजनीतिक जीवन में ऐसा खेल कभी नहीं देखा है.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 29, 2019, 6:08 PM IST
कांग्रेस कार्यकारिणी: वीरभद्र बोले- EVM में छेड़छाड़ की वजह से हारे
वीरभद्र सिंह, कांग्रेस नेता.
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 29, 2019, 6:08 PM IST
हिमाचल प्रदेश कांग्रेस पार्टी की कार्यकारिणी ने राहुल गांधी के नेतृत्व पर विश्वास जताते हुए सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित करते हुए उनसे राष्ट्रहित और पार्टी हित में इस्तीफा न देने का आग्रह किया है. प्रदेश कांग्रेस पार्टी कार्यालय शिमला में एक घंटे से ज्यादा चली बैठक में प्रस्ताव पारित कर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को भेजा गया. प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक में पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री सहित अधिकतर स्थाई सदस्य मौजूद रहे. हालांकि, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुखविदंर सुक्खू के करीबियों ने बैठक से दूरी बनाए रखी.

सवालों से बचते दिखे राठौर
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि आज की बैठक महज राहुल गांधी के समर्थन में सिंगल लाइन प्रस्ताव पारित करने के लिए रखी गई थी. प्रदेश कांग्रेस ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया और इस्तीफा न देने की मांग की. कुलदीप सिंह राठौर ने पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुक्खू के प्रस्ताव पर कुछ भी बोलने से इंकार किया और कहा कि उन्हें जानकारी नहीं है, लेकिन सुक्खू ने जो पत्र भेजा है, ऐसा पत्र कोई भी भेज सकता है और इस पर सवाल उठाने की जरूरत नहीं है.

ये बोले वीरभद्र सिंह

वीरभद्र सिंह, पूर्व सीएम ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए कहा कि भाजपा की जीत संदेह के घेरे में है. मैंने अपने राजनीतिक जीवन में ऐसा खेल कभी नहीं देखा है. वीरभद्र सिंह ने भाजपा की सरकारों पर चुनाव में सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने और चुनाव जीतने के लिए हथकंडे अपनाने का आरोप लगाया. वीरभद्र सिंह ने कहा कि चुनाव के दौरान समाज के कुछ वर्ग को पैसा बांटा गया. चुनाव आदर्श आचार सहिंता की सरेआम उल्लंघना की गई है.

कार्यकर्ताओं को नसीहत
वीरभद्र सिंह ने कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए कहा कि आज की हार, कल की जीत होगी. एकजुट होकर हार का सामना करो और भविष्य के लिए चुनौतियों से लड़ने की तैयारी में जुट जाओ. इससे पहले, मंगलवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद सिंह सुक्खू ने राहुल गांधी के समर्थन में 14 विधायकों का पत्र हाईकमान को भेजा था.उधर, मुकेश अग्निहोत्री, नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आज की बैठक में महज सर्वसम्मति से राहुल गांधी के समर्थन में सिंगल लाइन प्रस्ताव पारित करना किया गया है. प्रदेश कांग्रेस पार्टी ने राहुल गांधी से इस्तीफा न देने का आग्रह किया है और कांग्रेस पार्टी राहुल के साथ खड़ी है.
First published: May 29, 2019, 5:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...