• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • Water Crisis in Shimla: भारी बारिश के बाद शिमला में गहराया पेयजल संकट

Water Crisis in Shimla: भारी बारिश के बाद शिमला में गहराया पेयजल संकट

शिमला में पानी की समस्या.

शिमला में पानी की समस्या.

Water Crisis in Shimla: बारिश से पेयजल परियोजनाओं में गाद की समस्या हो गई है, जिससे शहर में पानी का शेड्यूल गड़बड़ा गया है. पानी की कमी के चलते शहर में तीसरे दिन पानी की आपूर्ति की जा रही है.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) समेत आसपास के क्षेत्रों में हो रही बारिश के चलते एक बार फिर पेयजल संकट गहरा गया है. पेयजल संकट होने से शिमलावासियों को तीसरे और चौथे दिन पानी की आपूर्ति हो रही है, जिससे शहरवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में पेयजल परियोजनाओं (Water Crisis in Shimla) में आ रही गाद को देखते हुए जल निगम ने भी शहर में अब तीसरे दिन पानी की सप्लाई देने का फैसला लिया है. जल निगम ने इसका शेड्यूल भी जारी कर दिया है.

बीते कई दिन से बिना शेड्यूल जारी किए शहरवासियों को पानी दिया जा रहा था. इस पर सवाल उठने के बाद लोगों ने कंपनी से शेड्यूल जारी करने की मांग की थी. कंपनी ने मंगलवार को शेड्यूल जारी करते हुए शहर में तीसरे दिन पानी की सप्लाई देने का फैसला लिया है. हालांकि, गाद थमने के बाद शहर में नियमित सप्लाई भी शुरू कर दी जाएगी.

सभी पेयजल परियोजनाओं से हुई 36.60 एमएलडी पानी की आपूर्ति
मंगलवार को सभी 6 पेयजल परियोजनाओं से शिमला शहर को करीब 36.60 एमएलडी पानी मिला है. यह सामान्य से करीब 9 एमएलडी कम रहा. गुम्मा पेयजल परियोजना से 18.86 एमएलडी पानी की आपूर्ति हुई है. इसके अलावा गिरि से 7.57 एमएलडी पानी मिला है. बाकी दिनों में इस परियोजना से शहर को 18 एमएलडी तक पानी आता है. चुरट से 2.83, सियोग से 1.42, चेयड से 0.60, कोटी बारंडी से 5.32 एमएलडी पानी की आपूर्ति हुई है. गिरि से सप्लाई घटने के बाद कंपनी ने गुम्मा और चाबा से सप्लाई बढ़ाई है, लेकिन इनमें भी गाद से परेशानी हो रही है.

क्या कहते हैं अधिकारी

एजीएम राजेश कश्यप ने कहा कि प्रयास है कि सभी को पानी दिया जाए.गाद को देखते हुए अभी तीसरे दिन पानी दिया जाएगा. पेयजल कंपनी की ओर से जारी शेड्यूल के मुताबिक, मंगलवार को न्यू शिमला जोन के मैहली, पंथाघाटी,  देवनगर, कंगनाधार समेत सेक्टर पांच और 6, छोटा शिमला जोन के विकासनगर, एसडीए कालोनी, कनलोग, बैनमोर, राजभवन, चार्ली विला, संजौली जोन के चलौंठी, ढींगू  समिट्री, संजौली चौक, इंजनघर, सांगटी के क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति की गई है. इसके अलावा, सेंट्रल जोन के भराड़ी, कैलस्टन, कुफ्टाधार, केल्टी, लक्कड़ बाजार, शांकली, जाखू, बैनमोर, चौड़ा मैदान जोन के नाभा, फागली, अनाडेल में पानी की सप्लाई दी जाएगी. इसके अलावा बाकी बचे क्षेत्रों में बुधवार को पानी की आपूर्ति की जाएगी.
अवैध डंपिंग से गहराया शहर में पेयजल संकट
नगर निगम के डिप्टी मेयर शैलेंद्र चौहान ने बताया कि लगातार हो रही बारिश से पेयजल परियोजनाओं में गाद की समस्या हो गई है, जिससे शहर में पानी का शेड्यूल गड़बड़ा गया है. पानी की कमी के चलते शहर में तीसरे दिन पानी की आपूर्ति की जा रही है. उन्होंने कहा कि सेब मंडी पराला के आपपास अवैध रूप से डंपिंग की जा रही है, जिसके चलते सबसे बड़ी पेयजल परियोजना गिरी में गाद की मात्रा बढ़ गई है. गाद की समस्या आने से पम्पिंग भी नहीं हो पा रही है. उन्होंने बताया कि इस सम्बंध में डीसी शिमला को पहले ही अवगत करवाया गया है और एसडीएम ठियोग को भी अवगत करवाया गया है.अब मौसम साफ होते ही पराला मंडी के साथ लगते क्षेत्र की जॉइंट इंस्पेक्शन की जाएगी ताकि आने वाले दिनों में पानी की कमी न हो.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज