लाइव टीवी
Elec-widget

World Bank पोषित परियोजना पर सुस्त रहा जल शक्ति विभाग, 4 साल बाद शुरू हुआ काम

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 25, 2019, 2:57 PM IST
World Bank पोषित परियोजना पर सुस्त रहा जल शक्ति विभाग, 4 साल बाद शुरू हुआ काम
IPH मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि इस साल 15 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे

हिमाचल में जल संरक्षण (Water Conservation) को लेकर काम होना है जिसमें नदियों की गहराई मापने के अलावा भू जल स्तर पर नजर बनाए रखना और पहाड़ों पर बर्फ पड़ने की स्थिति को मॉनिटर करना शामिल है. इसमें रिमोट सेंसिंग के जरिए सारा डाटा एकत्र होगा ताकि भविष्य में पानी की किल्लत से जुड़ी चुनौतियों को लेकर पहले ही तैयारी की जा सके.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल में विश्व बैंक (World Bank) की मदद से हाइड्रोलॉजी से जुड़ी परियोजना (Hydrology Project) पर 4 साल में सरकार चार कदम भी ढंग से नहीं चल पाई. पिछली कांग्रेस सरकार (Congress Government) के समय पूरे भारत में जल विज्ञान (Hydrology in India) से जुड़ी एक योजना पर काम शुरू हुआ था. हिमाचल के लिए 73 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए थे जिसका मुख्यालय मंडी (Mandi) में था, लेकिन 2016 में स्वीकृत परियोजना पर अब तक केवल चार करोड़ रुपये खर्च किए गए. यह भी तब पता चला जब योजना को एग्जामिन किया गया. केंद्र सरकार ने भी इस मसले पर हिमाचल के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि जैसा काम होना चाहिए था वैसा काम नहीं हुआ. आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Irrigation and Public Health) ने इसकी पुष्टि की है.

आईपीएच मंत्री ने कहा कि इस मामले को फिर से केंद्र के समक्ष उठाया गया और योजना पर काम शुरू हो रहा है. इस साल सरकार ने 15 करोड़ रुपये खर्च करने का लक्ष्य रखा है. उन्होंने कहा कि योजना 2025 तक की है.

पानी की किल्लत से जुड़ी चुनौतियों को लेकर तैयारी

दरअसल योजना के तहत हिमाचल में जल संरक्षण (Water Conservation) को लेकर काम होना है जिसमें नदियों की गहराई मापने के अलावा भू जल स्तर पर नजर बनाए रखना और पहाड़ों पर बर्फ पड़ने की स्थिति को मॉनिटर करना शामिल है. इसमें रिमोट सेंसिंग के जरिए सारा डाटा एकत्र होगा ताकि भविष्य में पानी की किल्लत से जुड़ी चुनौतियों को लेकर पहले ही तैयारी की जा सके. हालांकि चिंता की बात यह है कि 2016 से लेकर अब तक अधिकारी भी चिरनिद्रा में रहे और योजना पर छुटपुट काम भी नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें - सोनिया की अगुवाई में महंगाई व बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस की महारैली

ये भी पढ़ें - CM ने किया अल्ट्रा मॉडर्न बस अड्डे का उद्घाटन, मिलेंगी एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 2:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...