सतलुज से शिमला लाया जाएगा पानी, जल्द होगा जल प्रबंधन निगम लि. का गठन

वर्ल्ड बैंक की सहायता से शिमला के लिए बिछाई जा रही पेयजल लाइन को जल्द शुरु करने के लिए प्रदेश सरकार ने जल प्रबंधन निगम लिमिटेड गठित करने की मंजूरी दे दी है.

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: April 17, 2018, 5:23 PM IST
सतलुज से शिमला लाया जाएगा पानी, जल्द होगा जल प्रबंधन निगम लि. का गठन
हिमाचल प्रदेश का एक जलाशय
Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: April 17, 2018, 5:23 PM IST
राजधानी शिमला में पेयजल संकट को दूर करने के लिए प्रदेश सरकार भी गंभीर हो गई है. वर्ल्ड बैंक की सहायता से शिमला के लिए बिछाई जा रही पेयजल लाइन को जल्द शुरु करने के लिए प्रदेश सरकार ने जल प्रबंधन निगम लिमिटेड गठित करने की मंजूरी दे दी है. बीते सोमवार को हुई कैबिनेट बैठक में निगम लिमिटेड की मंजूरी मिलने के बाद कार्य को जल्द शुरू करने की उम्मीद जाग गई है.

शिमला नगर निगम ने डिप्टी मेयर राकेश कुमार ने बताया कि वर्ल्ड बैंक की शर्तों के मुताबिक शहर में पानी को प्रबंधन कार्य करने के लिए एक अलग से एजेंसी का गठन किया जा रहा है ताकि शहर में लोगों को 24 घंटे पानी दिया जा सके.

उन्होंने बताया कि शिमला शहर में पानी वितरण और उसकी देखभाल के लिए जिस सर्कल को बनाया गया था उसी सर्कल के तहत जल प्रबंधन निगम लिमिटेड का गठन किया जाएगा. निगम लिमिटेड सतलुज परियोजना के साथ साथ शहर में पेयजल वितरण, बिल और पानी से जुड़ी जन शिकायतों के समाधान का कार्य भी करेगी.

उन्होंने बताया कि निगम लिमिटेड गठित होने के बाद ही वर्ल्ड बैंक करीब साढ़े सात सौ करोड़ के इस प्रोजेक्ट कार्य के लिए पहली किश्त जरी करेगा. राकेश कुमार ने बताया कि नगर निगम शिमला शहर के लोगों को उचित मात्रा में पानी मुहैया करवाने के लिए प्रयास कर रही है जिसके लिए वर्ल्ड बैंक के सहयोग से सतलुज से पानी लाया जा रहा है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->