हिमाचल में बढ़ने लगी ठंड, पारा लुढ़का, लाहौल में पारा -0.3 डिग्री पहुंचा

लाहौल स्पीति में पानी जमने लगा है.
लाहौल स्पीति में पानी जमने लगा है.

Weather in Himachal Pradesh: हिमाचल प्रदेश में बीते तीन महीने से बारिश नहीं हुई है. मॉनसून की विदाई के बाद से यहां मौसम शुष्क चल रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 9:24 AM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में ठंड (Cold in Himachal Pradesh) बढ़ने लगी है. मैदानी इलाकों में अब ठंड (Cold) बढ़ी है और सुबह शाम लोग गर्म पहनने लगे हैं. देर रात और अल सुबह मंडी (Mandi) सहित कुछ इलाकों हल्की बूंदाबादी (Rainfall) और पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी (Snowfall) और हुई है. बर्फबारी से मौसम ठंडा हुआ है. कुल्लू-मनाली के पहाड़ों सहित धौलाधार पर्वत श्रृंखला पर भी बर्फ के फाहे गिरे हैं. इससे पहले, शुक्रवार को भी शिंकुला और बारालाचा दर्रे पर हल्की बर्फबारी देखी गई. वहीं, बर्फबारी के चलते मैदानी इलाकों के अलावा, ऊंचाई वाले इलाकों में पारा गिरा है.

लुढ़क गया पारा

जनजातीय जिला लाहुल स्पीति के मुख्यालय केलांग में तापमान जमाव बिंदु से नीचे पहुंच गया है. यहां पर शुक्रवार को न्यूनतम पारा -0.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है. वहीं, शिमला में न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री और कल्पा में 1.6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ है. केलांग में अधिकतम तापमान 14.9 डिग्री, शिमला में 20.4 डिग्री, धर्मशाला में 22.6 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है.



क्या रहेगा मौसम का हाल
मौसम विभाग के अनुसार, हिमाचल में चार नवंबर तक मौसम ड्राई रहेगा. इस दौरान किसी भी तरह से बारिश की संभावना नहीं है. वहीं, मौसम के शुष्क होने से ऊंचाई वाले इलाकों पानी जमने लगा है. स्पीति और लाहौल में पारा जमाव बिंदु पर पहुंचा है. ऐसे में पानी जमने लगा है.

मनाली लेह मार्ग पर बारलाचा पास पर बर्फबारी. (FILE PHOTO)


तीन महीने से बारिश नहीं

हिमाचल प्रदेश में बीते तीन महीने से बारिश नहीं हुई है. मॉनसून की विदाई के बाद से यहां मौसम शुष्क चल रहा है. इस बार मॉनसून सीजन में भी सूबे में कम बारिश हुई है. लोगों को बेसब्री से बारिश का इंतजार है. क्योंकि गेंहू की बिजाई का सीजन भी अब निकल गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज