Rain in Himachal: हिमाचल में बारिश और ओलावृष्टि, शिमला में बिजली गिरने से दो युवकों की मौत

शिमला में बारिश.

शिमला में बारिश.

Weather in Himachal: मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने प्रशासन से भी सतर्क रहने की अपील की है. पूरे प्रदेश में 16 मई तक मौसम खराब रहने की संभावना है. इस दौरान उच्च पर्वतीय जिलों में बर्फबारी के आसार भी हैं.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में मंगलवार सुबह से मौसम के कड़े तेवर देखने को मिले हैं. प्रदेश के कई इलाकों में मंगलवार सुबह-सुबह झमाझम बारिश (Rain) शुरू हो गई है. सुबह छह बजे मंडी, शिमला (Shimla), सहित कई इलाकों में बारिश हो रही है. वहीं, शिमला के ऊपरी इलाकों में ओले गिरने से सेब की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है.

मौसम विभाग ने मैदानी और मध्य पर्वतीय 10 जिलों में मंगलवार से भारी बारिश, अंधड़ और ओलावृष्टि का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. 11 से 13 मई तक इन जिलों के अधिकांश क्षेत्रों में बादल बरसने का पूर्वानुमान है. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने प्रशासन से भी सतर्क रहने की अपील की है. पूरे प्रदेश में 16 मई तक मौसम खराब रहने की संभावना है. इस दौरान उच्च पर्वतीय जिलों में बर्फबारी के आसार भी हैं.

शिमला में ऊपरी इलाकों में गिरे ओले.

दो युवकों की मौत
शिमला जिले में रामपुर के झाकड़ी इलाके के मासनू गांव में बिजली गिरने से दो युवकों की मौत हो गई. बीती रात को ये दोनों युवक सेब के बागीचे में काम कर रहे थे. इस दौरान बारिश हो रही थी. इसी दौरान दोनों युवक पेड़ के नीचे खड़े हो गए और अचानक बिजली गिर गई. दोनों को अचेत हालात में सराहन अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. दोनों युवक नेपाली मूल के थे और काफी समय से यहीं रहते हैं.

कैसा रहेगा मौसम

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा के लिए 11 से 13 मई तक ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. उच्च पर्वतीय जिलों किन्नौर और लाहौल-स्पीति के लिए 12 मई को येलो अलर्ट जारी हुआ है. इस दौरान इन इलाकों मे बर्फबारी के आसार हैं.वहीं, 16 मई तक प्रदेश में बारिश के आसार जताए गए हैं.



हिमाचल में मौसम का हाल.

लेह मनाली हाईवे बहाल

करीब तीन सप्ताह बाद बारालाचा दर्रा होकर मनाली-लेह सामरिक मार्ग सोमवार को छोटे वाहनों के लिए बहाल कर दिया गया है. इस दौरान लाहौल से 23 वाहनों को लेह की तरफ रवाना किया गया, जबकि पांच वाहन लेह से लाहौल पहुंचे. इन वाहनों में कुल 127 लोग बारालाचा दर्रा के आरपार हुए. बारालाचा दर्रा के आसपास अभी सड़क किनारे बर्फ की ऊंची दीवारें होने से बड़े वाहनों की आवाजाही में दिक्कत आ रही है. बर्फ को हटाने का काम अभी जारी है. बीआरओ ने बीते 28 मार्च को मनाली-लेह सामरिक मार्ग बहाल किया था लेकिन लगातार हुई बर्फबारी के कारण यह मार्ग सुचारु रूप से अभी तक खुल नहीं पाया था.

बारलाचा से बर्फ हटाते हुए बीआरओ के जवान.

सोमवार को खिली थी धूप

इससे पहले, सोमवार को प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहा और धूप खिली रही. सोमवार को प्रदेश का अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम दर्ज हुआ. सोमवार को ऊना में अधिकतम तापमान 36.7, बिलासपुर 34.8, हमीरपुर 33.5, मंडी 32.1, सुंदरनगर 32.2, कांगड़ा 31.8, चंबा 31.3, भुंतर 30.7, नाहन 29.5, सोलन 29.1, जुब्बड़हट्टी 27.5, धर्मशाला 25.6, शिमला 23.4, मनाली 23.6, कल्पा 20.4, डलहौजी 19.2 और केलांग में 18.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज