विधानसभा का शीतकालीन सत्र सोमवार से, विपक्ष इन मुद्दों पर कर सकते हैं हंगामा

हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा का शीतकालीन सत्र 10-15 दिसंबर तक धर्मशाला के तपोवन में होने जा रहा है. जयराम सरकार के एक साल के कार्यकाल का यह चौथा सत्र होगा.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 8, 2018, 5:31 PM IST
विधानसभा का शीतकालीन सत्र सोमवार से, विपक्ष इन मुद्दों पर कर सकते हैं हंगामा
हिमाचल विधानसभा, धर्मशाला
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 8, 2018, 5:31 PM IST
हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा का शीतकालीन सत्र 10-15 दिसंबर तक धर्मशाला के तपोवन में होने जा रहा है. जयराम सरकार के एक साल के कार्यकाल का यह चौथा सत्र होगा. 6 दिवसीय शीतकालीन सत्र के दौरान सदन कई मुद्दों पर गरमा सकता है. ये मुद्दे ऐसे हो सकते हैं जिसके धौलाधार की ठंडी फिजाओं में सियासी तपिश का पारा कई बार चढ़ सकता है.

सियासी पंडितों की मानें तो शीतकालीन सत्र हंगामेदार रहने वाला है. विपक्ष ने जनहित से जुड़े कई मुद्दों पर सरकार को सदन में घेरने के लिए कमर कस ली है.

इन मुद्दों पर विधानसभा में विपक्ष कर सकते हैं हंगामा

विपक्ष ने अपना रूख सपष्ट करते हुए जयराम सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार सभी क्षेत्रों में विफल रही है चाहे लॉ एंड आॅर्डर हो, प्रदेश पर कर्ज का बढ़ता बोझ हो, फिजूलखर्ची, अध्यक्ष- उपाध्यक्षों की नियुक्तियां, महिला सुरक्षा, योजनाओं को धरातल पर उतारने में विफल रहने और केंद्र सरकार से प्रदेश को बड़ी विकास योजनाएं स्वीकृत करवाने में नाकाम रहने और प्रदेश में भारी बारिश से हुए नुकसान की पूरी भरपाई करने में विफल रहने, प्रदेश के बागवान-किसानों के हितों को सुरक्षित में नाकाम रहने और कर्मचारियों और अधिकारियों के तबादलों जैसे मुददों पर विपक्ष सरकार को आड़े हाथों लेगा.

सीएम जयराम ठाकुर के मंत्रियों ने साफ शब्दों में अपना रूख सपष्ट करते हुए काह कि विपक्ष के सवालों का जवाब दिया जाएगा. नियमों के मुताबिक पूछे जाने वाले सवालों का जवाब देना हमारी जिम्मेदारी है.

सीएम जयराम ने विपक्ष से सहयोग की उम्मीद जताते हुए नसीहत दी है कि जनहित में पूछे जाने वाले सवालों का जवाब दिया जाएगा. सरकार ने एक साल के कार्यकाल में कितना विकास कार्य किया, विपक्ष को इसकी सदन के अंदर जानकारी दी जाएगी.

उन्होंने कहा है कि विपक्ष सुनने की क्षमता रखें और महज शोरशराबा करने की मंशा से सदन में न जाएं, विपक्ष अपनी नैतिक जिम्मेदारी से ना भागें.
Loading...

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब में फंसे लोग सुरक्षित, जल्द लगाए जाएंगे वापस- सीएम

भगवान हनुमान को दलित बताकर वोट लेने का प्रपंच कर रही है बीजेपी: प्रेम कौशल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर