सुर्खिया: ‘जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाएगी भाजपा’, रामपुर में तेंदुए का आतंक

रामपुर में तेंदुआ.
रामपुर में तेंदुआ.

शिमला के रामपुर में महात्मा गांधी चिकित्सा परिसर खनेरी के चिकित्सक कॉलोनी में इन दिनों तेंदुए का आतंक फैला हुआ है. इस कॉलोनी में रह रहे डॉक्टर्स और अन्य लोगों का रात के समय घरों से बाहर निकाला मुश्किल हो गया है। डॉक्टरों का कहना है कि पिछले तीन दिनों में तेंदुआ ने 6 कुत्तों को शिकार बना दिया है.

  • Share this:
धारा-370 पर सीएम का बयान : दिव्य हिमाचल ने लिखा है कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को कहा कि केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटा दी जाएगी. उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान पाकिस्तान के आतंकवादी समूह भारत को लगातार निशाना बनाते थे और सरकार बिना कुछ कार्रवाई किए मूकदर्शक बनी रहती थी. उन्होंने कहा कि धारा-370 ऐसी धारा है, जिसने आज तक कश्मीर को भारत के साथ ठीक से जुड़ने तक नहीं दिया और यह देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के बोए हुए बीज हैं जिन्हें आज कांग्रेस हवा देने का काम कर रही है. उन्होंने महबूबा मुफ्ती का बयान, जिसमें कहा गया है कि अगर धारा-370 हटा दी गई तो भारत मिट जाएगा, पर पलटवार करते हुए कहा कि हिंदोस्तान को मिटाने वाला कोई शख्स आज तक पैदा नहीं हुआ है. देश के खिलाफ ऐसे बयान देने वाले लोग खुद ही मिट जाएंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि वह धारा-370 जारी रखेगी, दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी ने इसे समाप्त कर देने की बात अपने संकल्प पत्र में कही है. चुनावों में जनता इसका जवाब कांग्रेस व उसकी सहयोगी पार्टियों को पराजित कर देगी. जयराम ठाकुर ने कहा कि ये पत्थरबाज आतंकवादियों की नर्सरी है. इन्हीं में से कल को आतंकवादी बन सकते हैं. आतंकवादियों को किसी भी प्रकार की ढील नहीं दी जा सकती. उन्होंने महबूबा मुफ्ती और फारूख अब्दुल्ला के देश विरोधी बयानों पर तंज कसते हुए कहा कि ये जो अलगाववाद का पाठ पढ़ा रहे हैं, वे अब और ज्यादा दिन नहीं चलेगा. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा जारी संकल्प पत्र में राष्ट्रवाद की प्रतिबद्धता को दोहराया गया है और टुकड़े-टुकड़े मानसिकता के आधार पर नहीं, बल्कि संकल्प पत्र राष्ट्रवाद की दृष्टि से तैयार किया गया दस्तावेज है. उन्होंने कहा कि सत्ता में आने पर भाजपा ने अनुच्छेद-370 खत्म करने का वादा किया है और भाजपा द्वारा आतंकवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा से रत्ती भर भी समझौता न करने का संकल्प लिया गया है.

सत्ती ने दिया नोटिस का जवाब
दैनिक जागरण ने लिखा है कि मंडी में सार्वजनिक सभा के दौरान आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती को शनिवार को उनके आवास ऊना के जलग्रां गांव में नोटिस भेजा गया. यह नोटिस मंडी के जिला निर्वाचन अधिकारी की तरफ से भेजा गया. सत्ती ने नोटिस मिलने के बाद जवाब दे दिया है. सत्ती ने प्रदेश निर्वाचन विभाग द्वारा जारी नोटिस के बाद दो पेज के जवाब में कहा कि उन्होंने किसी राजनीतिक पार्टी और नेता के खिलाफ कोई अभद्र टिप्पणी नहीं की है. इस तरह की शिकायत उन्हें केवल बदनाम करने और उनकी छवि को धूमिल करने के लिए की गई है. निर्वाचन विभाग द्वारा जारी नोटिस उन्हें शनिवार सुबह 11 बजे मिला था. इसका जवाब उन्होंने शनिवार को ही दे दिया है. काग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनके बयान को सोशल मीडिया में जारी कर छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है. मंडी में दिए उनके भाषण की जाच निर्वाचन विभाग कर सकता है. इसकी जाच के बाद उन्हें कोई ऐसा ब्यान नहीं मिलेगा जिसमें उन्होंने किसी की छवि को प्रभावित करने या किसी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द कहे हों. वह किसी के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग नहीं करते हैं, लेकिन जो व्यक्ति भाजपा के शीर्ष नेताओं के खिलाफ बदजुबानी करेगा, उसे सहन नहीं किया जाएगा. वह भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार करते रहेंगे.

दो कर्मियों पर गिरेगी गाज
अमर उजाला ने लिखा है कि आदर्श आचार संहिता के मामले में सिरमौर जिले के दो कर्मचारियों पर गाज गिरना तय माना जा रहा है. भारत चुनाव आयोग को भेजी गई शिकायत के बाद जांच में दोनों कर्मचारियों पर लगाए गए आरोप सही पाए गए हैं. लिहाजा, उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने आचार संहिता का उलंघन करने पर दोनों कर्मचारियों के खिलाफ सरकारी सेवा नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करने के लिए संबधित विभाग को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं. एक कर्मचारी पर संगड़ाह में भाजपा की रैली तो दूसरे पर कांग्रेस की बैठक में भाग लेने के आरोप हैं. उपायुक्त ने बताया कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के उलंघन करने पर बलबीर सिंह सेल सुपरवाइजर प्रदेश नागरिक आपूर्ति निगम क्षेत्रीय कार्यालय नाहन और इंद्र सिंह जेबीटी अध्यापक एवं बीएलओ केंद्रीय प्राथमिक पाठशाला संगड़ाह के विरूद्ध शिकायत प्राप्त हुई थी. इसके बाद एसडीएम संगड़ाह ने इसकी जांच की. जांच में उन पर लगे आरोप सही पाए गए हैं. आरोप है कि बलबीर सिंह सेल सुपरवाइजर ने हरिपुरधार में भाजपा रैली में भाग लिया था जबकि इंद्र सिंह संगड़ाह में कांग्रेस की बैठक में गए थे.



रामपुर में तेंदुए की दहशत
हिमाचल प्रदेश के शिमला के रामपुर में महात्मा गांधी चिकित्सा परिसर खनेरी के चिकित्सक कॉलोनी में इन दिनों तेंदुए का आतंक फैला हुआ है. इस कॉलोनी में रह रहे डॉक्टर्स और अन्य लोगों का रात के समय घरों से बाहर निकाला मुश्किल हो गया है। डॉक्टरों का कहना है कि पिछले तीन दिनों में तेंदुआ ने 6 कुत्तों को शिकार बना दिया है. इसकी सूचना वन विभाग को भी दे दी गई है. लोगों की सुरक्षा को देखते हुए विभाग ने वहां पर पिंजरा और तो कैमरे लगाने की मांग की थी. खनेरी अस्पताल के डॉ. दिनेश और डॉ. पदम शर्मा ने बताया कि पहले भी कई बार कॉलोनी के आसपास तेंदुए को देखा गया है, जिस कारण यहां लोग खौफ में हैं. कई बार डॉक्टर्स को आपातकालीन सेवाएं देने खनेरी अस्तपताल जाना पड़ता है. ऐसे में उन्हें भी भय बना रहता है कि कहीं उनका सामना तेंदुए से न हो जाए. शनिवार रात को भी तेंदूआ कॉलोनी के आसपास के देखा गया, जिसके बाद वन विभाग को सूचित किया गया और वन विभाग की टीम में ललित भारती, तारा चंद, उदय लश्टी, आनंद नेगी, लक्ष्मण और संजीव कुमार मौके पर पहुंचने और तेंदुए को पकड़ने के लिए कालोनी के आसपास पिंजरा लगा दिया.

ये भी पढ़ें : HPBOSE Board 10th Class Result: आज घोषित होंगे 10वीं कक्षा के नतीजे

गोवा के होटल में हिमाचल की युवती की हत्या, ब्यॉयफ्रेंड फरार

जिप्‍सी में छुपाई था 40 ग्राम चिट्टा, थलौट में पुलिस नाके पर दो युवक गिरफ्तार

सुर्खिया: ‘जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाएगी भाजपा’, रामपुर में तेंदुए का आतंक

पार्टी परिवार की तरह चलती है, BJP में ऐसा नहीं होने से छोड़ी पार्टी: सुरेश चंदेल

सुखराम ने पोते को लॉन्च की जल्दी में बेटे का भविष्य दांव पर लगा दिया: सीएम जयराम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज