Home /News /himachal-pradesh /

एक और ‘युग’ का खौफनाक अंत: बच्चे को मारने के बाद भी फिरौती मांगता रहा आरोपी

एक और ‘युग’ का खौफनाक अंत: बच्चे को मारने के बाद भी फिरौती मांगता रहा आरोपी

सीसीटीवी फुटेज में आरोपी युवक के साथ.

सीसीटीवी फुटेज में आरोपी युवक के साथ.

आरोपी ने बड़ी चालाकी के साथ बच्चे के साथ पटाखे जलाने के बहाने पहले दोस्ती की और उसे अपने जाल में फंसा लिया.

    एक और ‘युग’ का अंत हो गया. फिरौती के लिए 12 साल के किशोर की हत्या कर दी गई. आरोपी युवक को झांसा देकर अपने साथ ले गया और फिर पिता से फिरौती मांगी और बाद में उसकी हत्या कर दी. मामला बेशक, हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले का है, लेकिन सूबे की राजधानी में चार साल पहले हुए ‘युग हत्याकांड’ की याद दिलाता है.

    कुछ इसी हत्याकांड की तरह आरोपी भी किशोर को झांसा देकर अपने साथ ले गए और उसे मारने के बाद भी पिता से फिरौती मांगता रहा. हालांकि इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि युग हत्याकांड में दो साल से ज्यादा समय बीतने के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया था.

    ये है मामला
    मंगलवार को छठी कक्षा में पड़ने वाला किशोर कंधे पर बैग उठाए अपने बड़े भाई के साथ कोठो स्कूल में पढ़ने निकला. रास्ते में बड़े भाई को छोड़ स्कूल से कुछ दूरी पहले ही छात्र पटाखे चलाने के लिए रुक गया, लेकिन उसे क्या पता था कि कोई उसका इंतज़ार कर रहा था. आरोपी ने बड़ी चालाकी के साथ बच्चे के साथ पटाखे जलाने के बहाने पहले दोस्ती की और उसे अपने जाल में फंसा लिया.

    फिर उसके कंधे पर हाथ रख कर स्कूल की ओर ऐसे चलने लगा, जैसे कोई बच्चपन का दोस्त हो, लेकिन छात्र को क्या पता था कि उसके कंधे पर दोस्ती का हाथ रखकर चल रहा आरोपी उसकी मौत की इबारत लिख रहा है. वह कुछ दूर तक उसके साथ गया और फिर वह दोनों लापता हो गए.

    फिरौती में पहले मांगे 50 हजार, फिर पचास लाख
    आरोपी ने बच्चे के पिता से सम्पर्क साधा और ग्यारह बजे के आसपास उसने पचास हज़ार रुपये की मांग की और अपना फोन बंद कर दिया. फिर किसी दूसरे फ़ोन से एक बजे फोन कर 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी और अंतिम बार पार्क में झूला झूलते हुए फोन पर फिरौती मांग रहा था. पुलिस ने उसे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर धर दबोचा और उससे बच्चे का आईकार्ड बरामद कर लिया.

    पहले टालमटोल, फिर गुनाह कबूला: एएसपी
    सोलन के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार ने बताया कि जब आरोपी युवक से सख्ती से पूछताछ की गई तो पहले तो वह पुलिस को मनगढ़ंत कहानियां सुनाता रहा, फिर बाद में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. वह पुलिस को उस स्थल पर ले गया जहां उसने गला दबाने के बाद छात्र का शव छुपाया था. पुलिस ने देखा कि छात्र के गले पर निशान थे और उसे मारने के बाद नाले में झाड़ियों और पत्तों से छुपा दिया गया था. शिव कुमार ने बताया कि हत्यारा शिमला का रहने वाला है और मोबाइल की दुकान पर काम करता है.

    साधारण परिवार से था किशोर
    छात्र के पिता साधारण परिवार से हैं. वह हार्डवेयर की दुकान पर काम करते हैं. उनके दो बेटे थे, जिसमें से एक को आरोपी ने मौत की नींद सुला दिया. स्थानीय लोगों का कहना है कि जहां यह कत्ल हुआ है, वहां हमेशा शराबी और नशेड़ी घूमते रहते हैं, जिस बारे में पुलिस को कई बार आगाह किया जा चुका है. वहीं, इस दिल दहला देने वाली घटना से आसपास के क्षेत्रों में दहशत है. लोगों को अपने बच्चों को अकेले स्कूल भेजने में डर लग रहा है.

    ये है शिमला का युग हत्याकांड
    14 अगस्त 2014 को मासूम युग की हत्या कर दी गई थी. 22 अगस्त 2016 को इस पूरे हत्याकांड का खुलासा हुआ था, जब तीन दोषियों में विक्रांत बख्शी को सीआईडी ने गिरफ्तार किया. विक्रांत बख्शी की निशानदेही पर भराड़ी के पास पानी के टैंक में अपहरण के दो साल बाद युग का कंकाल बरामद किया गया. चार साल के मासूम को दोषियों ने मारने से पहले सख्त यातनाएं दी थी और जिंदा ही पानी के टैंक में फेंक दिया था. जिला कोर्ट ने तीनों दोषियों को इस मामले में फांसी की सजा सुनाई है. सीआईडी ने 2300 पन्नों का आरोप पत्र जिला कोर्ट में सौंपा था. इस आरोप पत्र में 105 गवाहों के बयान दर्ज किए गए थे.

    ये भी पढ़ें : 24 घंटे में दूसरा मर्डर: फिरौती के लिए किशोर की हत्या, जंगल में मिला शव

    एक और ‘युग’ का खौफनाक अंत: बच्चे को मारने के बाद भी फिरौती मांगता रहा आरोपी

    900 मीटर गहरी खाई में गिरी बोलेरो, 2 लोगों की मौत, 6 घायल

    हिमाचल के कांगड़ा में सनसनीखेज मर्डर, हत्या के बाद घर के पास टांगा शव

    जब 4 गोल्ड मेडल लेने वाली दीपिका से राष्ट्रपति ने पूछा-‘क्या सभी मेडल आपके हैं’

    हिमाचल में बदलेगा मौसम: इस दिन होगी विंटर सीजन की पहली बारिश और बर्फबारी

    Tags: Murder, Shimla, Solan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर