'ब्लैकलिस्ट दवा कंपनी को हिमाचल की धरती पर नहीं करने दिया जाएगा काम'

स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में जिन दवा कंपनियों के बार-बार सैंपल फेल हो रहे हैं उन कंपनियों के खिलाफ विभाग की ओर से कार्रवाई की जा रही है.

Jagat Singh Bains
Updated: May 18, 2018, 12:26 PM IST
'ब्लैकलिस्ट दवा कंपनी को हिमाचल की धरती पर नहीं करने दिया जाएगा काम'
विपिन परमार,स्वास्थ्य मंत्री, हिमाचल प्रदेश
Jagat Singh Bains
Updated: May 18, 2018, 12:26 PM IST
हिमाचल प्रदेश के आयुर्वेदिक एवं स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार दून विधानसभा क्षेत्र के एक दिवसीय दौरे पर रहे इस एक दिवसीय दौरे के दौरान स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने ड्रग कंट्रोलर बद्दी के कार्यालय में सभी स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी एवं ड्रग्स विभाग के कर्मचारियों से समीक्षा बैठक की. उसके बाद विपिन परमार ने बद्दी में एक पत्रकार वार्ता को भी संबोधित किया.

पत्रकारों को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में जिन दवा कंपनियों के बार-बार सैंपल फेल हो रहे हैं उन कंपनियों के खिलाफ विभाग की ओर से कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने कहा है कि अगर फिर भी किसी कंपनी की बार-बार सैंपल फेल होने की खबर उनके पास आ रही है तो वह उस कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने से भी परहेज नहीं करेंगे.

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में ऐसी किसी भी कंपनी को यहां पर काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और जो लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ करेगी. उन्होंने कहा है कि पूरे देश में 40 फीसदी के करीब दवाएं हिमाचल प्रदेश में बन रही है और देश ही नहीं बल्कि विदेश में बिकने वाली हर तीसरी दवा हिमाचल प्रदेश में बनती है.

उन्होंने कहा है कि डॉक्टर नालागढ़ में सेवाएं दे रहे हों दे रहे हों और वह चंडीगढ़ में रहते हैं तो उनके खिलाफ भी आने वाले समय में कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा है कि नालागढ़ तत्काल में जल्द ही डॉक्टरों की कमी को पूरा किया जाएगा.
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Himachal Pradesh News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर