बरेली से सोलन काम करने आए परिवार का ठेकेदार पर किडनैप का आरोप, तीन बाद पुलिस ने छुड़ाया
Bareilly News in Hindi

सोलन जिले के उपमंडल नालागढ़ के तहत हिमाचल प्रदेश- हरियाणा सीमा पर स्थित शाहपुर गांव में एक प्रवासी दंपति व उसके पूरे परिवार को किडनैप करने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के उपमंडल नालागढ़ के तहत हिमाचल प्रदेश- हरियाणा सीमा पर स्थित शाहपुर गांव में एक प्रवासी दंपति व उसके पूरे परिवार को किडनैप करने का मामला सामने आया है. यह घटना 18 जुलाई की बताई जा रही है, जब यूपी के बरेली का रहने वाला एक परिवार शाहपुर गांव में अपने कमरा शिफ्ट करके दूसरे कमरे में जा रहा था. उसी दौरान जिस ठेकेदार रविंद्र कुमार के पास पीड़ित व्यक्ति काम करता था, उस व्यक्ति द्वारा एक दर्जन से ज्यादा गुंडों के साथ उसके घर पर पहले तो उनके साथ मारपीट की गई और उसके बाद उसके दो भाइयों समेत उसकी पत्नी को कमरे के अंदर बंद कर दिया गया और उक्त व्यक्ति को बंधक बनाकर किसी अनजान सुनसान जगह पर ले जाकर 3 दिनों तक उसको चाकू की नोक से मारपीट की गई.

पीड़िता ने रिश्तेदारों को फोन करके बताया

पुलिस वाले फिर मौके पर पहुंचे और पुलिस ने 3 दिनों के बाद आरोपियों से महिला को तो छुड़वा दिया लेकिन उसके पति को वह नहीं छुड़वा पाए.




यह मामला उस समय सामने आया जब पीड़िता ने बरेली में अपने रिश्तेदारों को फोन किया तब उसके रिश्तेदारों द्वारा मीडिया के लोगों से संपर्क किया गया और पुलिस को रिश्तेदारों द्वारा सूचित किया गया. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मौके का जायजा लेकर यह कह दिया कि पूरा परिवार सुरक्षित जगह पर है और वह अपने कमरे में ही है.
तीन बाद महिला को मिली आरोपियों से मुक्ति

उक्त पीड़ित परिवार द्वारा जब मीडिया को फोन करके बताया गया कि उन्हें जबरन एक कमरे में बंद करके रखा गया है. पीड़ित महिला ने मीडिया के लोगों को बताया कि अपहरणकर्ताओं ने पता नहीं उनके पति को पता नहीं इन लोगों ने कहां रखा है तब इस बारे में जब मीडिया वालों ने पुलिस से बात की. तो पुलिस वाले फिर मौके पर पहुंचे और पुलिस ने 3 दिनों के बाद आरोपियों से महिला को तो छुड़वा दिया लेकिन उसके पति को वह नहीं छुड़वा पाए.

ये है मामला

आपको बता दें कि पूरा मामला यह था कि बरेली शहर का रहने वाला एक प्रवासी परिवार शाहपुर गांव में किराए के मकान में रहते थे और बद्दी में निजी कंपनी में काम करता था. पीड़ितों का कहना है कि पहले तो ठेकेदार व उसके एक दर्जन के करीब गुंडों द्वारा उनके परिवार पर हमला कर दिया गया और उनके परिवार के तीन सदस्यों को एक जगह और एक व्यक्ति को अलग जगह पर 3 दिन तक किडनैप करके बंधक बनाकर रखा गया.

यह भी पढ़ें: कश्मीर में आतंकी हमले में हिमाचल का 24 साल का जवान साहिल शहीद

हिमाचल के मनाली में किशोरी का मर्डर, ब्यास नदी में फेंक दी लाश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज