लाइव टीवी

अयोध्या मामला: मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक बोले, राम मंदिर के पक्ष में फैसला आया तो स्वागत करेंगे

News18 Himachal Pradesh
Updated: November 5, 2019, 8:53 PM IST
अयोध्या मामला: मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक बोले, राम मंदिर के पक्ष में फैसला आया तो स्वागत करेंगे
मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक ने कहा कि अगर फैसला राम मंदिर के पक्ष में आएगा तो वह इसका स्वागत करेंगे

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (Muslim Nationalist Forum) का कहना है कि अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का जो फैसला आएगा हम हिंदुस्तान के राष्ट्रवादी मुसलमान उसका तहे दिल से सम्मान करेंगे.

  • Share this:
सोलन. अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का जो फैसला आएगा, हम हिंदुस्तान के राष्ट्रवादी मुसलमान (Nationalist Muslim) उसका तहे दिल से सम्मान करेंगे. यह बात मुस्लिम राष्ट्रीय मंच हिमाचल प्रदेश के संयोजक के डी हिमाचली ने नालागढ़ में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कही. उन्होंने कहा कि फैसला राम मंदिर के पक्ष में आएगा तो स्वागत करेंगे. के डी हिमाचली ने कहा कि अगर फैसला पक्ष में नहीं आएगा तो मुस्लिम पक्ष अपना दावा छोड़ कर राम मंदिर के निर्माण में सहयोग करेगा.

गंगा-जमुनी तहजीब संस्कृति को बनाए रखने की अपील की
के डी हिमाचली ने कहा कि देश की एकता अखंडता और आपसी भाईचारे को कायम रखने के लिए मुस्लिम राष्ट्रीय मंच देश के सभी पक्षों से अपील करता है कि सभी संयम बरतें अफवाहों को दरकिनार करें, भड़काने वालों से दूर रहे और हिंदुस्तान की गंगा जमुनी तहजीब को बरकरार रखें. उन्होंने कहा कि आपसी भाईचारे को एक ऐसा पुल निर्माण कर दो कि पूरी दुनिया आप के पीछे चले.

1947 में की गई खता की सजा सदियों से भुगत रहे, सुधार कर लें: केडी हिमाचली

केडी हिमाचली ने कहा कि इतिहास गवाह है कि 1947 में छोटी सी गलती से लाखों की जानें चली गई. बहुत बर्बादी हुई मिला क्या? 1947 में की गई खता का सदियों से सजा भुगती जा रही है. उन्होंने कहा हिंदुस्तान के हिंदुओं में, मुसलमानों में बहुत से ऐसी शरारती तत्व है जो लड़ाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं.

'यह देश हमारा है, हम सबको साथ बढ़ना है'
उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष को संयम के साथ रहते हुए भारत के 20 करोड़ मुसलमानों ने अपने भविष्य की दिशा दशा तथा तय करनी है कि हमें किस रास्ते पर चलना है. उन्होंने कहा कि समय के अनुसार समाज तेजी से बदल रहा है और बुराई को खत्म कर गलती को सुधार कर ही तरक्की होती है. उन्होंने कहा कि यह देश हमारा है और इसे हम सबको एक साथ आगे बढ़ना है.
Loading...

'केरल और गुजरात में पहली मस्जिद हिंदू राजा ने बनवाई थी'
उन्होंने कहा कि केरल राज्य में पहली मस्जिद हिंदू राजा ने बनाई थी. सातवीं शताब्दी में गुजरात में पहली मस्जिद हिंदू राजा ने बनाई. उन्होंने कहा कि सनातन धर्म किसी परंपरा का विरोधी नहीं और संघ मुसलमानों का असल मित्र है. संघ से अच्छा व पारदर्शी संघ पूरी दुनिया में नहीं है. केडी हिमाचली ने दावा किया कि दुनिया का असल दारुस्सलाम हिंदुस्तान है और दुनिया का दारुल हरब पाकिस्तान है. हमें दारुल इस्लाम चुना है. इस मौके पर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के आला सदस्य भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें: यह सच है कि राजीव गांधी ने ही बाबरी मस्जिद के ताले खुलवाने के आदेश दिए थे: ओवैसी

हिमाचल: यहां टू व्हीलर पर चलना है तो पीछे बैठी सवारी को भी पहनना होगा हेलमेट 

दिल्ली-NCR में Air Pollution के चलते हिमाचल टूरिज्म की बल्ले-बल्ले, मनाली-कुल्लू में होटल फुल!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 7:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...