Home /News /himachal-pradesh /

forests are burning around solan fire has started in 53 places loss of forest wealth worth rs 27 lakhs nodssp

धधक रहे हैं सोलन के जंगल; 53 जगह लग चुकी है आग, 27 लाख रुपये की वन संपदा का नुकसान

Solan forest Fire: सोलन के जंगलों में आग लगने से  करोड़ों रुपये की वन संपदा जलकर राख हो रही है.

Solan forest Fire: सोलन के जंगलों में आग लगने से करोड़ों रुपये की वन संपदा जलकर राख हो रही है.

Solan forest Fire: करोड़ों रुपये की वन संपदा जलकर राख हो रही है. एक दिन में ही विभिन्न जंगलों में आग लगने की वजह से दमकल विभाग के हाथ-पांव फूल रहे हैं. स्टाफ की कमी होने के बावजूद भी दमकल विभाग आग को नियंत्रण करने का बेहद प्रयास कर रहा है, लेकिन आग है कि बुझने का नाम ही नहीं ले रही है.

अधिक पढ़ें ...

सोलन. हिमाचल के सोलन शहर के आसपास करीबन सभी जंगल सुलग रहे हैं. करोड़ों रुपये की वन संपदा जलकर राख हो रही है. एक दिन में ही विभिन्न जंगलों में आग लगने की वजह से दमकल विभाग के हाथ-पांव फूल रहे हैं. स्टाफ की कमी होने के बावजूद भी दमकल विभाग आग को नियंत्रण करने का बेहद प्रयास कर रहा है, लेकिन आग है कि बुझने का नाम ही नहीं ले रही है.

जहांं दमकल विभाग के कर्मी भारी मशक्कत के बीच आग को बुझा देते है. कुछ घंटों बाद फिर से कोई शरारती व्यक्ति जंगल में आग लगा देता है और जंगल फिर से धधक उठते हैं. जिसकी वजह से विभाग की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं.

45 करोड़ रुपये की वनसंपदा बचा ली गई 

दमकल विभाग के अधिकारी कमलजीत ने बताया कि अभी तक एक माह में 53 स्थानों में आग लग चुकी है. जिसमें 27 लाख रुपये की वन संपदा का नुकसान हो चुका है. 45 करोड़ की वन सम्पदा को विभाग ने नुकसान होने से बचा लिया है. उन्होंने कहा कि आज भी पांच वनों में आग लगी है. उन्होंने कहा कि स्थानीय लोग जंगलों में आग लगा कर  उसका लाभ उठाना चाहते है, लेकिन उनकी वजह से वनों को भारी नुकसान पहुंच रहा है. उन्होंने कहाकि जिस जंगल में उनके द्वारा आग पूर्ण रूप से बुझा दी जाती है. उसके कुछ घंटों बाद शरारती तत्व वनों में फिर से आग लगा देते है। जो एक चिंता का विषय है.

Tags: Forest fire, Himachal news, Solan

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर