यूको बैंक का एटीएम उखाड़ ले गए थे यूपी के चार लुटेरे, एक ​गिरफ्तार

सोलन के नालागढ़ स्थित यूको बैंक के एटीएम को उखाड़ कर लूटने की वारदात को पुलिस ने सुलझा लिया है. इसमें शामिल चार लुटेरों में से एक की गिरफ्तारी हो गई.

Jagat Singh Bains | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 11, 2019, 1:14 PM IST
यूको बैंक का एटीएम उखाड़ ले गए थे यूपी के चार लुटेरे, एक ​गिरफ्तार
दो जून यूको बैंक एटीएम लुटेरे उखाड़ ले गए थे
Jagat Singh Bains | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 11, 2019, 1:14 PM IST
हिमाचल प्रदेश में सोलन के नालागढ़ स्थित यूको बैंक के एटीएम को उखाड़ कर लूटने की वारदात को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस घटना को चार लोगों ने अंजाम दिया था और इसके लिए तीन वाहनों का प्रयोग किया गया था. इस मामले के घटित होने के बाद जिला पुलिस प्रमुख ने जिला पुलिस, सोलन पुलिस व साइबर सेल की संयुक्त टीम का गठन किया और एक साल के कॉल रिकार्ड खंगालने के बाद लूट के चार आरोपियों में से एक को धर दबोचने में कामयाबी हासिल कर ली है. लूट में प्रयोग किए गए दो वाहनों को भी जब्त कर लिया गया है. आरोपी को पुलिस ने उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने कोर्ट से सात दिन की पुलिस रिमांड पर आरोपी को लिया है. पुलिस ने इस मामले में आरोपी इसरार खान को गिरफ्तार किया है. उसके पिता का नाम इस्माइल है और वह उत्तर प्रदेश के बदायूं के भावीपुर गांव का रहने वाला है. पुलिस को इस कांड के अन्य तीन आरोपियों की तलाश अभी जारी है. पुलिस टीमें जगह-जगह दबिश दे रही हैं. एटीएम का संचालन करने वाली कंपनी के जगसीर सिंह की ओर से पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और एक सप्ताह के भीतर ही इस मामले में एक गिरफ्तारी कर ली गई है. गौरतलब है कि एटीएम में 8.32 लाख रुपये कैश मौजूद था.

ऐसे दिया था लूट की वारदात को अंजाम



नालागढ़ के डीएसपी चमन लाल ने कहा कि चार लुटेरों ने इस घटना को रैकी के बाद अंजाम दिया था. मुख्य आरोपी धर्मराज उर्फ गामा ने अपनी मौसी के बेटे छोटा नाम युवक और नेपाल निवासी सोमू और गिरफ्तार किए गए आरोपी इसरार खान के साथ मिलकर यह वारदात की है. इन्होंने बीबीएन क्षेत्र के लोदीमाजरा से रिकवरी वैन को चोरी किया और भुड्ड से एक पिकअप वाहन को उठाया.

रिकवरी वैन के माध्यम से एटीएम बूथ का शटर तोड़ा 

पिकअप के माध्यम से रिकवरी वैन को टोचन लगाकर स्टार्ट किया और मोहाली से लाई गई होंडा सिटी कार में यह चारों 2 जून की मध्यरात्रि करीब 3 बजे एटीएम के पास पहुंचे थे. सबसे पहले रिकवरी वैन के माध्यम से एटीएम बूथ का शटर तोड़ा गया और इसके बाद एक लुटेरे ने घुसकर और सीसीटीवी कैमरे ऑफ कर दिए.

रिकवरी वैन के माध्यम से एटीएम उखाड़ा गया और इसी रिकवरी वैन में इस एटीएम को खरूणी के साथ निकलने वाले संपर्क मार्ग के पास ले गए, जहां इसे पिकअप में डाला गया और पिकअप लेकर यह लोग बद्दी से होते हुए एसपी कार्यालय से होकर कालूझिंडा से होते हुए यह पपलोहा पहुंचे.

एटीएम में 8.32 लाख कैश मौजूद था
Loading...

कालूझिंडा में एटीएम को तोड़ने का प्रयास किया गया, लेकिन लुटेरे यहां असफल रहे, लेकिन पपलोहा माजरा के पास इन्होंने गैस कटर से इसे काटा और एटीएम के भीतर 8.32 लाख कैश को निकाला और इसे आपस में बांटकर और फिर होंडा सिटी कार को लेकर आरोपी यहां से फरार हो गए.

उन्होंने कहा कि लूट के आरोपी डकैती की वारदात में सात सात साल की सजा काट चुके है। उन्होंने कहा कि लूट के अन्य तीन आरोपी भी जल्द सलाखों के पीछे होंगे.

यह भी पढ़ें: गुरुजी ने जमकर पी शराब और स्कूल में ही हो गए ढेर

जान जोखिम में डालकर ब्यास की लहरों के साथ कर रहे मस्ती
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...