लाइव टीवी

हिमाचल के नौणी में ई-रिक्शा से उठेगा घरों-दुकानों का कूड़ा, फिर बनेगी खाद

Sunil kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 15, 2020, 2:45 PM IST
हिमाचल के नौणी में ई-रिक्शा से उठेगा घरों-दुकानों का कूड़ा, फिर बनेगी खाद
सोलन का नौणी गांव.

पंचायत प्रधान बलदेव ठाकुर ने बताया कि पंचायत मे सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए जल्द ही ई-रिक्शा चलाया जाएगा.

  • Share this:
सोलन. हिमाचल प्रदेश के जिला सोलन (Solan) की निर्मल ग्राम पंचायत नौणी (Nauni) देश भर में स्व्च्छता (Cleanness) के मामले मे एक अलग पहचान बनाए हुए है. स्वच्छता मामले में अनेकों इनाम पंचायत ने अपने नाम किए हैं. बावजूद इसके नौणी पंचायत सफाई व्यवस्था को बरकरार रखने के लिए हर संभव कार्य कर रही है.

इसी कड़ी मे पंचायत को साफ-सुथरा रखने के लिए अब लोगों के घर द्वार से ही कूड़ा उठाने के लिए पहल हुई है. पंचायत में जल्द ही ई-रिक्शा चलाई जाएगा, जिससे कूड़ा उठाया जाएगा. इससे ना तो किसी तरह का प्रदूषण होगा और पंचायत को साफ रखने मे भी मदद मिलेगी.

सोलन जिले में पड़ता है नौणी गांव.
सोलन जिले में पड़ता है नौणी गांव.


गांव में ही बनेगी खाद

इतना ही नहीं, पंचायत में एक गार्बेज मशीन स्थापित की जा रही है. इससे आने वाले दिनों में लोगों के घरों से निकलने वाले गीले कचरे से खाद बनाई जा सकेगी और पंचायत के किसानों को दिया जाएगा. बाकी बची खाद को अन्य लोगों को बेचा जाएगा. पंचायत के इस तरह के कार्यों से न केवल सफाई व्यवस्था कायम रहेगी, बल्की खाद बेचकर पंचायत की आय भी बढ़ेगी.

कूड़ा उठाने के लिए लाया गया ई-रिक्शा.
कूड़ा उठाने के लिए लाया गया ई-रिक्शा.


यह बोले पंचायत प्रधानपंचायत प्रधान बलदेव ठाकुर ने बताया कि पंचायत मे सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए जल्द ही ई-रिक्शा चलाया जाएगा. इससे लोगों के घरों से कचरा इकठा किया जाएगा. पंचायत में प्रदेश सरकार की ओर से एक गारबेज मशीन लगाई जा रही है, जिसमे लोगों के घरों से निकने वाले गीले कचरे से खाद बनाई जाएगी.

कूड़े से खाद बनाने के लिए लाई गई मशीन.
कूड़े से खाद बनाने के लिए लाई गई मशीन.


खाद बेचने से होगी आय
प्रधान ने बताया कि खाद को किसानों को दिया जाएगा. साथ अन्य लोगों को इसे बेचा भी जाएगा. इससे न केवल पंचायत मे सफाई व्यवस्था बरकार रहेगी, बल्कि इससे पंचायत की आय भी बढ़ेगी. बता दें कि पंचायत में लोग सफाई टैक्स भरते हैं. दुकानदारों से 5 रुपये और किरायेदारों से 2 रुपये सफाई शुल्क लिया जाता है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल पुलिस की कस्टडी से रेप केस का आरोपी कैदी फरार

शिमला में भीषण अग्निकांड: 3 मकानों सहित पंचायत घर, पोस्ट ऑफिस और 5 दुकानें खाक

विक्रमादित्य सिंह V/S सूरत नेगी: ‘BJP में बढ़ रहा है अंधभक्तों का कुनबा‘

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोलन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 2:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर