ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए मांगी 5 हजार सिक्योरिटी फीस, बुजुर्ग की मौत

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 3:04 PM IST
ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए मांगी 5 हजार सिक्योरिटी फीस, बुजुर्ग की मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर.
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 3:04 PM IST
सोलन के क्षेत्रीय अस्पताल में जहां सिरमौर, शिमला और सोलन से रोगी इस उम्मीद से आते हैं कि उन्हें यहां अच्छा ईलाज मिलेगा, लेकिन यहा आने वाले ज्यादातर रोगी कटु अनुभव साथ लेकर जा रहे हैं. ऐसा ही वाक्या फिर से अस्पताल में देखने को मिला है.

यहां एक रेफर मरीज को ऑक्सीजन न मिलने से जान गंवानी पड़ी. ऑक्सीजन खत्म होने के बाद बुजुर्ग के साथ आई युवती से सिलेंडर के लिए सिक्योरिटी के एवज में पैसे मांगे गए. इस बीच बुजुर्ग की मौत हो गई.

ये है मामला
एक युवती अपने दादा को लेकर यहां अस्पताल पहुंची थी. पहले तो चिकित्सकों ने उन्हें खतरे से बाहर बताया और वार्ड में शिफ्ट कर दिया. काफी समय तक बुजुर्ग की हालत पर गौर नहीं किया. बाद में जब बजुर्ग की सांसें जवाब देने लगी तो डॉक्टरों को बुलाया गया. डॉक्टरों ने भी बला टालने के लिए बुजुर्ग को पीजीआई रेफर कर दिया गया. 108 एम्बुलेंस एम्बुलेंस उपलब्ध नहीं थी.

निजी गाड़ी में बजुर्ग को ले जाने के लिए आक्सीज़न सिलेंडर की जरूरत थी. युवती ने अस्पताल प्रशासन से सिलेंडर की मांग की तो उन्होंने पांच हज़ार रुपए सिक्योरिटी मांगी. युवती के पास इतने पैसे नहीं थे, वह रोती बिलखती अस्पताल प्रशासन से गुहार लगाती रही कि उसके पास पैसे नहीं हैं. दादा की तबीयत खराब हो रही है, लेकिन किसी का दिल नहीं पसीजा.

इसी जद्दोजहद में दो घंटे बीत गए और वृद्ध की मौत हो गई. बता दें कि युवती के माता-पिता की पहले ही मौत हो चुकी है.मृतक के तीमारदारों ने रोष प्रकट करते हुए कहा कि वृद्ध की मौत के लिए अस्पताल प्रशासन जिम्मेवार है.

पहले तो चिकित्सकों ने वृद्ध का ठीक से उपचार नहीं किया, बाद में उसे रेफर कर दिया. अस्पताल से उन्हें ले जाने के लिए एम्बुलेंस नहीं मिली. वह निजी वाहन में वृद्ध को शिमला ले जाना चाहते थे, लेकिन आक्सीज़न सिलेंडर के लिए 5000 रुपए की सिक्योरिटी मांगी गई. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाए सोलन अस्पताल में आम हो गई हैं.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर