440 बोल्ट का झटका: लॉकडाउन में बंद रहा आरा, हिमाचल बिजली विभाग ने थमाया ₹25000 बिल

गलत बिजली का बिल.
गलत बिजली का बिल.

बिजली विभाग नालागढ़ के एक्सईएन दर्शन सिंह का कहना है कि शिकायत आई है और एसडीओ को निर्देश देकर पीड़ित के बिल को ठीक करवाने की बात कही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 7:29 AM IST
  • Share this:
बद्दी (सोलन). हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में एक ओर पहले ही लोग कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं, वहीं दूसरी ओर, बिजली विभाग की कार्यप्रणाली ने लोगों की नींद उड़ा दी है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोगों का सारा कामकाज ठप्प हो गया था. अनलॉक के बाद थोड़ा-थोड़ा काम चलना शुरू हुआ, लेकिन अब नालागढ़ में भारी भरकम बिजली के बिल (Electricity bill) थमाए जा रहे हैं.

क्या है मामला

मामला नालागढ़ के तहत रोपड मार्ग पर स्थित एक आरे का है. बिजली विभाग ने कई माह से बंद आरा संचालक को पहले ₹24000 बिल दे दिया गया. बाद में आरा मालिक बिल ठीक करवाने बिजली विभाग नालागढ़ के अधिकारियों के पास गया. मौके पर अधिकारी ने कहा कि गलती से बिल ज्यादा काट दिया गया है. इस बिल को भर दो आगे से आपके बिल का पैसा एडजस्ट कर दिया जाएगा. पीड़ित ने बताया कि लॉकडाउन के चलते काम ना के बराबर था. ना ही बिजली इस्तेमाल की गई, लेकिन ₹24000 का बिल थमाया गया. इस बिल के बाद 25000 नया बिल दिया. इस पीड़ित आरा मालिक हक्का-बक्का रह गया. अब आरा मालिक बिल को लेकर खासा परेशान है और इतना पैसा उतारने को लेकर विभागीय अधिकारियों पर लापरवाही के आरोप भी लगा रहा है.



क्या बोले अधिकारी
बिजली विभाग नालागढ़ के एक्सईएन दर्शन सिंह का कहना है कि लॉकडाउन में जितने भी बिल काटे गए हैं, वह सीधे शिमला से काटे गए हैं. उनमें से जो बिल गलत कटे थे उनके लिए 6 जून तक बिल ठीक करवाने की तारीख रखी गई थी, लेकिन कई लोगों ने बिल नहीं ठीक करवाया. अब शिकायत आई है और उन्होंने एसडीओ को निर्देश देकर पीड़ित के बिल को ठीक करवाने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज