सोलन: ठेकेदार ने नहीं दी सैलरी तो 27 वर्षीय मजदूर ने किया सुसाइड, VIDEO में लगाए आरोप
Solan News in Hindi

सोलन: ठेकेदार ने नहीं दी सैलरी तो 27 वर्षीय मजदूर ने किया सुसाइड, VIDEO में लगाए आरोप
बद्दी में युवक ने की आत्महत्या.

युवक ने वीडियो (Video) में कहा कि ठेकेदार की वजह से ही वह जान देने जा रहा है. अगर उसके पास पैसा होता तो वह अपने घर जा सकता था. युवक ने अंत में अपने परिवार वालों से भी माफी मांगी.

  • Share this:
बद्दी (सोलन). हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के तहत थाना गांव में प्रवासी मजदूर ने आत्महत्या (Suicide) कर ली. बताया जा रहा है कि प्रवासी मजदूर थाना गांव में ही एक ठेकेदार के माध्यम से निजी फार्मा कंपनी में काम करता था. जैसे ही कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लॉकडाउन (Lockdown) हुआ तो प्रवासी मजदूर बद्दी में ही फंस गया था. आरोप है कि उन्‍होंने जब ठेकेदार से वेतन मांगा तो उसने देने से साफ मना कर दिया. इसके चलते वह मानसिक तौर पर परेशान हो गया और उसने पंखे से लटक कर जान दे दी. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम के लिए नालागढ़ के सिविल अस्पताल में भेजा है. फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

मौत से पहले वीडियो में लगाए आरोप
मौत से कुछ समय पहले प्रवासी मजदूर ने एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी और अपनी मौत के पीछे ठेकेदार को जिम्मेदार बताया. वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि मजदूर परेशान होकर लोगों से बोल रहा है कि ‘हेलो दोस्तों, मैं आपके पास एक वीडियो छोड़कर जा रहा हूं और मैं बहुत परेशान हूं. मैं घर भी नहीं जा सकता. एक तो लॉकडाउन और ऊपर से मेरा ठेकेदार मेरा वेतन नहीं दे रहा है. ठेकेदार ने वेतन देने से साफ मना कर दिया. अब मेरे पास न खाने के लिए पैसे हैं और न किसी और चीज को खरीदने के लिए पैसे हैं, जिसके कारण मैं अपनी जान देने जा रहा हूं और मेरी मौत का कारण ठेकेदार है.'

'ठेकेदार की वजह से दे रहा हूं जान'
युवक ने वीडियो में कहा कि ठेकेदार की वजह से ही मैं आज अपनी जान देने जा रहा हूं, अगर मेरे पास पैसा होता तो मैं अपने घर जा सकता था. युवक ने अंत में अपने परिवार वालों से भी माफी मांगते हुए कहा है कि वह उसे माफ करे, क्योंकि वह ठेकेदार से तंग होकर सुसाइड कर रहा है. अगर समय पर ठेकेदार ने प्रवासी मजदूर को उसका वेतन दे दिया होता तो आज प्रवासी मजदूर जिंदा होता और उसकी जान बच सकती थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading