#MISSION PAANI पानी बचाने के काम में जुटे इस पंचायत के लोग, किए जा रहे हैं ये उपाय

सोलन के नौणी पंचायत में करीब 6 हजार फीट की उंचाई से लेकर दो हजार फीट की उंचाई पर कवाल खड्ड तक सैकड़ों छोटे-बड़े चैक डैम लगाए हैं.

Sunil kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 1:48 PM IST
Sunil kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 1:48 PM IST
जल कुदरत का वो बेशकीमती तोहफा है, जिसे वह बगैर भेदभाव किए सभी को बराबर बांटती है. इस बेशकीमती तोहफे को संभालने की जरूरत है. पानी की बूंद बूंद को संरक्षित करने की दरकार है. सोलन जिला की निर्मल ग्राम पंचायत नौणी पानी बचाने के काम में लगी हुई है. आपको बता दे कि यह पंचायत पानी के संरक्षण के लिए पिछले कई सालों से सराहनीय कार्य करती आ रही है. इसी कड़ी मे पंचायत में करीब 6 हजार फीट की उंचाई से लेकर दो हजार फीट की उंचाई पर कवाल खड्ड तक सैकड़ों छोटे-बड़े चैक डैम लगाए हैं. इतना ही नहीं, पंचायत में कई वर्षा जल संग्रण टैंक भी बनाए गए हैं ताकि पानी की बूंद बूंद को इकट्ठा किया जा सके.

पंचायत में कई तालों का निर्माण किया जा रहा है

Check dam-चैक डैम
पंचायत में करीब 6 हजार फीट की उंचाई से लेकर दो हजार फीट की उंचाई पर कवाल खड्ड तक सैंकड़ों छोटे-बड़े चैक डैम लगाए हैं.


नौणी पंचायत में पानी को संग्रहित करने व भूजल स्तर को बढ़ाने के लिए पंचायत में कई तालों का निर्माण भी किया जा रहा है. इससे आने वाले दिनों में न सिर्फ पंचायत मे भूमि कटाव को रोका जा सकेगा बल्कि पानी को भी सरंक्षित किया जा सकेगा. जल संग्रण पर किए जा रहे इन कार्यो की बदौलत आज के समय मे एक ओर जहां पंचायत के तहत लगे हैंड पंपों मे पर्याप्त जल है, वहीं क्षेत्र के पाकृतिक स्त्रोत भी पानी से लबालब हैं. पंचायत प्रधान का कहना है कि कुछ साल पहले गर्मियों में यहां के जल स्त्रोत सूख जाते थे, वहीं आज के समय में गर्मियों में भी पंचायत में पानी की किसी तरह के समस्या सामने नहीं आती है.

पंचायत के भूजल स्तर में हुआ है सुधार

नौणी पंचायत के प्रधान बलदेव ठाकुर ने बताया कि पंचायत में करीब चौदह हैंडपंप और कई बोरवेल हैं, जिसे रिचार्ज करने के लिए पंचायत में कई चैक डैमों का निर्माण किया जा रहा है. उन्होने बताया कि पंचायत मे करीब 6 हजार फीट की उंचाई से लेकर दो हजार फीट तक सौ से अधिक छोटे बड़े चैक डैम लगाए गए हैं. इन चैक डैमों के लगने से एक ओर जहां पंचायत का जलस्तर बढ़ा है, वहीं पर्यावरण भी सुधरा है.

यह भी पढ़ें: ग्लोबल इन्वेस्टर के हाथों प्रदेश को बेचने की तैयारी, आला अधिकारी कर रहे मदद: मुकेश अग्निहोत्री
Loading...

फिर भड़की धवाला की ज्वाला, कहा-हमारे तालमेल में घी डालने का काम बंद करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोलन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 4, 2019, 1:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...