सोलन में शूलिनी मेला आज: जब मेला न होने पर मां के प्रकोप से फैली थी महामारी

दूसरी संध्या में कृतिका तनवर, हंसराज रघुवंशी और अनुज शर्मा की प्रस्तुति होगी. तीनों दिन स्थानीय और हिमाचल के अलग-अलग जिलों से गायक कार्यक्रम प्रस्तुति देंगे.

News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 1:22 PM IST
सोलन में शूलिनी मेला आज: जब मेला न होने पर मां के प्रकोप से फैली थी महामारी
सोलन का शूलिनी मेला. (फाइल फोटो)
News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 1:22 PM IST
हिमाचल प्रदेश के सोलन में शूलिनी मेला 21 जून यानी आज से शुरू होगा. माता शूलिनी के नाम पर ही सोलन का नाम नाम रखा गया है. माता शूलिनी का मेला पिछले कई दशकों से आस्था का प्रतीक है. मेले को जिलास्तरीय मेले का दर्जा प्राप्त है.

शुरूआती तौर पर मेले का आयोजन करने वाले खेम चंद शर्मा और अन्य शहर वासियों ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से पहले मेला करवाने के लिए 500 रुपए दिए जाते थे. उन्होंने बताया कि पहले सोलन बहुत छोटा सा शहर होता थाय पुराने उपायुक्त कार्यालय तक ही आबादी होती थी. उस से आगे पंजाब का इलाका शुरू होता था. इस कारण मां की पालकी को वहीँ तक ले जाया जाता था और फिर उनकी डोली वहीं से लौट आती थी.

अब नहीं आती आपदा
एक बार लोगों की जिद के चलते  माता की पालकी को सुंदर सिनेमा तक ले जाया गया, जिसे माता ने पसंद नहीं किया, फिर माता से माफ़ी मांगी गई. वहीँ एक बार शूलिनी मेले का आयोजन नहीं किया गया तो माता के प्रकोप से शहर में महामारी फ़ैल गई. फिर माता को शांत करने के लिए शहरवासियो ने माफ़ी मांगी और फिर से शूलिनी मेला धूमधाम से मनाया जाता है. यही कारण है कि सोलन शहर पर अब तक आपदा नहीं आई. इस मेले को दर्जा दिलवाने के लिए पूर्व मंत्री महेंद्र नाथ सोफत को श्रेय जाता है. यह मेला पहले गंज बाज़ार में सोसायटी के मैदान में मनाया जाता था. अब इसका बजट लाखों रूपये है.

ये करेंगे परफॉर्म
मां शूलिनी के ऐतिहासिक मेले की सांस्कृतिक संध्या में ‘साईं वे साडी, फरियाद तेरे ताईं’ फेम सूफी गायक सतिंद्र सरताज मुख्य कलाकार होंगे. वह अंतिम संध्या में पेशकारी देंगे. भजन गायक पूर्ण शिवा भी प्रस्तुति देंगे. इसके अलावा, हिमाचल के लोकप्रिय ‘मेरा भोला है भंडारी’ गाना गाने वाले गायक हंसराज रघुवंशी भी आकर्षण रहेंगे. प्रशासन ने स्थानीय कलाकारों को भी तरजीह दी है. मेले की पहली सांस्कृतिक संध्या में हिमाचली गायक गीता भारद्वाज और विक्की चौहान प्रस्तुति देंगे. दूसरी संध्या में कृतिका तनवर, हंसराज रघुवंशी और अनुज शर्मा की प्रस्तुति होगी. तीनों दिन स्थानीय और हिमाचल के अलग-अलग जिलों से गायक कार्यक्रम प्रस्तुति देंगे.

ये भी पढ़े : -10 डिग्री में 13050 फीट ऊंचे रोहतांग पर ITBP जवानों का योग
Loading...

कुल्लू बस हादसा: मृतकों का आंकड़ा पहुंचा 44, 35 घायल

कुल्लू हादसा: ऑफिस से फोन आते रहे, पत्रकार की हो चुकी थी मौत

90 मिनट तक 1 ही योगासन: हिमाचली टीचर का विश्वरिकॉर्ड का दावा

सुर्खियां: चिट्टे की तलब के लिए ठगी और हिमाचल में मॉनसून

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोलन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 1:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...