सिख युवक के केश कत्ल, रास्ता रोककर मारपीट और पगड़ी उछाली

सिख समुदाय के लोगों ने एकत्रित होकर एसपी बद्दी रानी बिंदु सचदेवा को ज्ञापन देकर आरोपियों के खिलाफ और पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है.

Jagat Singh Bains | News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 3:12 PM IST
सिख युवक के केश कत्ल, रास्ता रोककर मारपीट और पगड़ी उछाली
नालागढ़ के युवक पर एक विशेष समुदाय के लोगों ने हमला किया है.
Jagat Singh Bains | News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 3:12 PM IST
हिमाचल प्रदेश के औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ में एक सिख युवक से मारपीट का मामला सामने आया है. आरोप है कि पहले सिख युवक के केश कत्ल किए गए और फिर उसके साथ मारपीट की गई. युवक की पगड़ी भी उछाली गई है. घटना

गुलाबपुरा में हुई है. सिख युवक मंगलवार सुबह पौने आठ बजे ड्यूटी के लिए घर से निकला. रास्ते में अन्य समुदाय के दो युवकों ने उसका रास्ता रोककर पहले तो लोहे की राहों और फट्टों के साथ उसके ऊपर जानलेवा हमला कर दिया फिर पगड़ी उछाल दी.

उसके बाद उसके बाल काट दिए. घटना के बाद जब पीड़ित युवक अपने परिजनों के साथ पुलिस चौकी दभोटा मामला दर्ज करवाने के लिए पहुंचा तो पुलिस वालों ने केस दर्ज नहीं किया. उल्टा उसी युवक पर केस दर्ज कर दिया गया.

युवक पंजाब के रोपड़ में दाखिल

हमले में पीड़ित युवक गंभीर रूप से घायल हो गया है जिसका पंजाब के रोपड़ में स्थित सिविल अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है. घटना के बाद से ही पूरे सिख समुदाय के लोगों में भारी रोष देखा जा रहा है. सिख समुदाय के लोगों ने एकत्रित होकर एसपी बद्दी रानी बिंदु सचदेवा को ज्ञापन देकर आरोपियों के खिलाफ और पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है.

रास्ता रोककर हमला किया : पीड़ित
पीड़ित युवक तेजिंदर पाल सिंह ने बताया कि वह जब काम करने के लिए जा रहा था तो रास्ते में दो लोगों ने उसका रास्ता रोक कर उसके ऊपर हमला कर दिया. उसके पगड़ी उछाल दी और उसके सिर के बाल भी काट दिए. पीड़ित ने आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है.

कार्रवाई नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन
एसजीपीसी और अकाली दल के प्रदेशाध्यक्ष सदस्य दिलजीत सिंह भींडर ने घटना पर दुख जाहिर करते हुए कहा है कि सिख युवक के साथ इस तरह की घटना निंदनीय है. पीड़ित के परिजनों उनकी अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल एसपी बद्दी रानी बिंदु सचदेवा से मिलेगा.

आरोपी हमलावरों और मामले में कार्रवाई न करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेगा. उन्होंने कहा कि अगर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाई नहीं की जाती है तो आने वाले समय में सिख समुदाय के लोग एकत्रित होकर आंदोलन का रास्ता अपनाने को मजबूर होंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर