सोलन: महिला IAS अफसर को मंदिर में हवन करने से रोका, कहा- महिलाओं को इसकी इजाजत नहीं

रितिका जिंदल का जन्म साल 1986 में हुआ है. वह पड़ोसी राज्य पंजाब के मोगा जिले की रहने वाली हैं.
रितिका जिंदल का जन्म साल 1986 में हुआ है. वह पड़ोसी राज्य पंजाब के मोगा जिले की रहने वाली हैं.

Shoolni Temple and Solan IAS Ritika Jindal: रितिका जिंदल ने अष्‍टमी के मौके पर चल रहे हवन में हिस्‍सा लेने की इच्‍छा जताई थी, जिसका वहां के लोगों ने विरोध किया.

  • Share this:
सोलन. हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में कुछ लोगों ने मंदिर में हवन यज्ञ करने से महिला IAS को रोक दिया. इस पर महिला आईएएस अफसर ने उन्हें खरी-खरी सुनाई. मामला नवरात्र के अष्‍टमी का है. यहां पर प्रसिद्ध शूलिनी माता मंदिर में अष्‍टमी के मौके पर हवन किया गया था. दरअसल, आईएएस अफसर रितिका जिंदल (IAS Ritika Jindal) इलाके की तहसीलदार हैं और मंदिर का सारा प्रबंध भी वही देखती हैं. आरोप है कि उन्हें हवन के दौरान कुछ लोगों ने रोक दिया और कहा कि महिला को हवन की इजाजत नहीं है. आईएएस रितिका जिंदल ने इसका विरोध का किया और पूजा में भाग लिया.

रोष प्रकट करते हुए रीतिका जिंदल ने कहा कि हम महिला सम्मान की बात करते है, लेकिन उन्हें उनके अधिकारों से ही वंचित रखा जाता है. उन्होंने बताया कि वह सुबह मंदिर में व्यवस्थाओं का जायज़ा लेने गई थीं. मंदिर में महिलाओं के प्रवेश और पूजा करने पर कोई रोक नहीं है, लेकिन वहां हवन चल रहा था. उन्होंने वहां मौजूद लोगों से हवन में भाग लेने का आग्रह किया, लेकिन उन्‍होंने साफ़ मना कर दिया और कहा कि जब से मंदिर में हवन हो रहा है तब से किसी भी महिला को हवन में बैठने का अधिकार नहीं मिला है.

क्या बोलीं रितिका
आईएएस रितिका जिंदल ने कहा कि सभी महिलाओं को इस मानसिकता को बदलने की आवश्यता है. इसे वे तभी बदल सकती हैं, जब वह इस रूढ़िवादी सोच का विरोध करेंगी. उन्होंने कहा कि जब उन्हें हवन में बैठने से मना किया गया तो उन्होंने अपने अधिकारों के बारे में उन्हें सचेत करवाया और हवन में भाग भी लिया. उन्होंने कहा कि मैं एक अधिकारी बाद में हूँ और महिला पहले हूँ और महिला होने के नाते ही उन्होंने यह लड़ाई लड़ी है.
कौन हैं रितिका जिंदल


रितिका जिंदल का जन्म साल 1986 में हुआ. वह पड़ोसी राज्य पंजाब के मोगा जिले की रहने वाली हैं. साल 2018 में उन्होंने यूपीएससी में 88वां रैंक हासिल किया था. मौजूदा समय में वह सोलन में तहसीलदार के पद पर तैनात हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज