ऊना में जिस जगह से अवैध शराब पकड़ी गई, वहां कांग्रेस एमएलए भी मौजूद हों: सतपाल सत्ती

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने ऊना विधायक सतपाल रायजादा को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति को अवैध शराब के साथ पकड़ा गया है, वह सतपाल रायजादा का वर्कर है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 6:11 PM IST
ऊना में जिस जगह से अवैध शराब पकड़ी गई, वहां कांग्रेस एमएलए भी मौजूद हों: सतपाल सत्ती
बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने ऊना के कांग्रेस विधायक सतपाल रायजादा को आड़े हाथों लिया है.
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 6:11 PM IST
हिमाचल प्रदेश के ऊना में अवैध शराब पकड़े जाने के मामले ने सियासी रंग ले लिया है. अवैध शराब मामले में ऊना के विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और पीए पर पुलिस से मारपीट करने के भी आरोप लगाए जा रहे हैं. इसके बाद बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने ऊना विधायक सतपाल रायजादा को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति को अवैध शराब के साथ पकड़ा गया है, वह सतपाल रायजादा का वर्कर है. उन्होंने कहा कि चुनाव के दिनों में रायजादा के साथ काम करते हुए उसके फोटो सोशल मीडिया में मौजूद हैं.

विधायक की फोन कॉल डिटेल भी खंगाले पुलिस : सत्ती

सतपाल सत्ती-satpal satti
प्रतीकात्मक तस्वीर: सतपाल सत्ती ने दावा किया है कि ऊना के माफियाओं के लिस्ट बनाई जाए तो उसमें 80 से 90 प्रतिशत कांग्रेस वर्कर और स्पोर्टर पाए जाएंगे.


बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने अंदेशा जताया कि जिस वक्त अवैध शराब के साथ गाड़ी पकड़ी गई है, उस वक्त वहां दो और गाड़ियां भी वहां मौजूद थी जिसमें विधायक भी मौजूद हो सकता है. ऐसे में विधायक की फोन कॉल की डिटेल खंगाली जानी चाहिए और दोषी पाए गए तो उन पर भी मामला दर्ज किया जाना चाहिए.

'विधायक के पीएसओ को भी टर्मिनेट किया जाए'

बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने विधायक के पीएसओ को भी टर्मिनेट करने की मांग की है. उन्होंने कांग्रेस को माफियाओं को संरक्षण देने वाली पार्टी करार दिया है. सतपाल सत्ती ने दावा किया है कि ऊना के माफियाओं के लिस्ट बनाई जाए तो उसमें 80 से 90 प्रतिशत कांग्रेस वर्कर और सपोर्टर पाए जाएंगे.

'कांग्रेस विधायक खनन माफिया को छुड़वाने के लिए धरने पर बैठ गए थे'
Loading...

सतपाल सत्ती ने कहा कि बीजेपी सरकार ने अब तक सिर्फ ऊना में ही माफियाओं के खिलाफ 33 केस बनाए हैं जबकि कांग्रेस के समय में केवल 11 माफियाओं पर ही केस बने थे. बीजेपी अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि ऊना के एक प्रधान पर खनन माफिया का केस बना था तो उसे छुड़ाने के लिए ऊना विधायक सतपाल रायजादा डीसी और एसपी के खिलाफ धरने पर बैठ गए थे.

ये है मामला

हिमाचल के ऊना में पेखुवेला में शराब पकड़ने गई पुलिस की एसआईयू टीम पर हमला हो गया. शराब से भरी गाडी पकड़ने के बाद पुलिस टीम के दो सदस्यों के साथ जमकर मारपीट हुई. पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करने वालों में ऊना सदर से कांग्रेस के विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और ड्राइवर को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

यहां भी पढ़ें: हिमाचल में मॉनसून: एक माह में पानी में बहे 364 करोड़ रुपये

BREAKING: लेह-लद्दाख की ओर जा रहे पेट्रोल से भरा टैंकर 100 फीट गहरी खाई में गिरा, ड्राइवर की मौत
First published: August 13, 2019, 6:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...