लाइव टीवी

बहुचर्चित 220 करोड़ छात्रवृत्ति घोटाला: CBI की फिर दस्तक, कुछ युवकों के लिए बयान
Una News in Hindi

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 5, 2020, 3:05 PM IST
बहुचर्चित 220 करोड़ छात्रवृत्ति घोटाला: CBI की फिर दस्तक, कुछ युवकों के लिए बयान
छात्रवृत्ति घोटाले में सीबीआई टीम ने ऊना में कुछ युवकों से पूछताछ की है.

Scholarship Scam in Himachal: यह पूरा मामला SC/ST, OBC छात्रों की प्री और पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति में घोटाले का है, जो कि साल 2013-14 और 2016-17 के दौरान हुआ था, सीबीआई ने हिमाचल प्रदेश सरकार के अनुरोध पर 07.05.2019 को मामला दर्ज किया था.

  • Share this:
ऊना. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में 220 करोड़ रुपये के बहुचर्चित छात्रवृत्ति घोटाले (Scholarship Scam) में सीबीआई (CBI) की टीम ने एक बार फिर से ऊना में दस्तक दी है. यहां सीबीआई टीम (CBI Team in Una) ने कुछ युवकों के बयान कलमबद्ध किए हैं. दरअसल, कुछ दिन पहले ही जिला मुख्यालय पर सीबीआई की टीम ने एक निजी शिक्षण संस्थान में दबिश देकर कार्रवाई की थी. इस दौरान इसी शिक्षण संस्थान के तार नाहन (Nahan) में भी जुड़े थे, जिसमें खुलासा हुआ था कि ऊना के कुछ युवकों को नाहन में छात्र बताकर छात्रवृत्ति हड़पी गई है.

ऊना पहुंची सीबीआई की टीम
बुधवार को ऊना पहुंची सीबीआई की टीम ने जांच के दौरान कुछ युवकों के बयान कलमबद्ध किए. सूत्रों की मानें तो जांच के दौरान कुछ दस्तावेजों के फर्जी होने की बात भी सामने आई है. युवकों की बिना जानकारी के बैंक खाते खुलने का भी खुलासा हुआ है.

यह खुलासा हुआ

पूरे मामले में भारी गड़बड़झाला है. ऊना के विद्यार्थियों को न केवल नाहन स्थित शाखा में अध्ययनरत दिखाया गया है, बल्कि अब इस फर्जीवाड़े में कुछ दस्तावेज भी सीबीआई को फर्जी प्रतीत हुए और उन्हें जांच के दायरे में लाया गया है. सीबीआई टीम ने ऊना में विद्यार्थियों से नाहन में कभी एडमिशन लेने के बारे में भी पूछा तो विद्यार्थियों ने नाहन में कभी एडमिशन लेने से साफ इंकार किया है. ऐसे में अब ऊना और नाहन के शिक्षण संस्थानों पर शिकंजा कस सकता है.

ऊना पहुंची सीबीआई की टीम.
ऊना पहुंची सीबीआई की टीम.


नाहन के शिक्षण संस्थान के रिकार्ड में ऊना के विद्यार्थियों का जिक्रदरअसल, छात्रवृति घोटाले में नाहन के शिक्षण संस्थान के रिकार्ड में ऊना के विद्यार्थियों का जिक्र मिला था. इस जिक्र के मिलने से सीबीआई टीम को संगीन गडबडझाले की बू आने लगी थी. टीम ने नाहन स्थित इस शैक्षणिक संस्थान की शाखा का भी रिकार्ड जब्त किया और अब टीम इन दोनों शाखाओं के रिकार्ड का मिलान करने में लगी हुई हैं. इस संस्थान की ऊना सहित प्रदेश भर में 8 शाखाएं हैं और ऊना की शाखा पहले से ही जांच के दायरे में है.

यह है मामला
220 करोड़ के छात्रवृति घोटाले में सीबीआई ने हाल ही में उच्चतर शिक्षा विभाग के अधिकारी, प्राइवेट ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट के वाइस चेयरमैन और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का हेड कैशियर को गिरफ्तार किया था. ये पूरा मामला SC/ST, OBC छात्रों की प्री और पोस्ट मैट्रिक छात्रवृति में घोटाले का है, जो कि साल 2013-14 और 2016-17 के दौरान हुआ था, सीबीआई ने हिमाचल प्रदेश सरकार के अनुरोध पर 07.05.2019 को मामला दर्ज किया था.

ये भी पढ़ें: नाबालिग लड़के से छेड़छाड़: महिला ने बनाया शादी का दवाब, ‘भाग कर शादी कर लो’

आधी रात को बर्फ में फंसे 6 सैलानी, पुलिस ने Google-Whats App की मदद से तलाशा

फर्जी तरीके से हासिल की नौकरी, हिमाचल पुलिस के 8 जवान गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऊना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 3:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर