कांग्रेस MLA सतपाल रायजादा के बदले सुर, हमीरपुर प्रत्याशी रामलाल को बताया जिताऊ
Una News in Hindi

कांग्रेस MLA सतपाल रायजादा के बदले सुर, हमीरपुर प्रत्याशी रामलाल को बताया जिताऊ
सतपाल रायजादा, कांग्रेस विधायक, ऊना सदर

स्थानीय विधायक सतपाल रायजादा के सुर एकाएक बदल गए हैं और वे राम लाल को कांग्रेस का सशक्त प्रत्याशी बताते नहीं थक रहे हैं.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर अपने चुनाव प्रचार अभियान का आगाज ऊना से रोड शो करके करेंगे. टिकट की घोषणा के बाद रामलाल के पहले दौरे को लेकर स्थानीय विधायक सतपाल रायजादा ने तैयारियां शुरू कर दी है. हालांकि सतपाल रायजादा पहले राम लाल ठाकुर को जिताऊ उम्मीवार नहीं मान रहे थे. अब सतपाल रायजादा के सुर एकाएक बदल गए हैं और वे राम लाल को कांग्रेस का सशक्त प्रत्याशी बताते नहीं थक रहे हैं. हमीरपुर लोकसभा सीट के लिए कांग्रेस ने रामलाल ठाकुर को चुनावी रण में उतार दिया है और रामलाल ठाकुर अपने प्रचार अभियान का आगाज भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती के गृह विधानसभा क्षेत्र ऊना सदर से ही करने जा रहे हैं.

8 अप्रैल को रामलाल ठाकुर हिमाचल प्रदेश के प्रवेश द्वार मैहतपुर से रोड़ शो करके चुनावी हुंकार भरने वाले है. ऊना सदर विधानसभा क्षेत्र के मैहतपुर से ऊना होते हुए कुटलैहड़ विधानसभा के बाद जिला हमीरपुर में रामलाल ठाकुर का रोड शो एंटर होगा. ऊना में रामलाल ठाकुर के स्वागत के लिए ऊना सदर के विधायक सतपाल रायजादा ने तैयारियों को लेकर कमर कस ली है.

रायजादा ने ऊना जिला व ब्लाक कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक करके रामलाल ठाकुर के रोड शो की रुपरेखा तैयार की. रायजादा ने कहा कि रामलाल ठाकुर पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं और पिछले कुछ चुनावों से बाहरी उम्मीदवार को टिकट मिलने के कारण कार्यकर्ता नाराज थे लेकिन इस बार कांग्रेस के ही व्यक्ति को उम्मीदवार बनाया गया है, जिसके चलते कार्यकर्ताओं में उत्साह है.



कुछ दिन पहले जब कांग्रेस में टिकट को लेकर उठापटक चल रही थी तो विधायक सतपाल रायजादा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को एक पत्र भी देकर आए थे, जिसमें रायजादा ने हमीरपुर लोकसभा से नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और पूर्व अध्यक्ष सुखविंदर सुक्खू को हमीरपुर से जिताऊ उम्मीदवार होने का दावा किया था. इतना ही नहीं रायज़ादा इन दोनों को छोड़ खुद के साथ-साथ ठाकुर रामलाल और बाहरी किसी भी नेता को जीतने की क्षमता न रखने वाला प्रत्याशी मानते थे.
यह भी पढ़ें: नए वित्त वर्ष का पहला कर्ज 400 करोड़ रुपए लेगी हिमाचल सरकार

PHOTOS: विभाग की अनदेखी के चलते खनन माफियाओं के हौसले हुए बुलंद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज