Home /News /himachal-pradesh /

फसल बीमा योजना में आलू के शामिल किए जाने पर खिल उठे किसानों के चेहरे

फसल बीमा योजना में आलू के शामिल किए जाने पर खिल उठे किसानों के चेहरे

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

आलू की फसल को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में शामिल किया गया है. इस फैसले से ऊना जिला के किसान गदगद हो गए हैं.

    आलू की फसल को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में शामिल किया गया है. इस फैसले से ऊना जिला के किसान गदगद हो गए हैं. ऊना को आलू का हब माना जाता है. यहां के किसान वर्ष भर में दो बार आलू की बिजाई करते हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से मौसम के बदले रूख से आलू की फसल तबाह हो रही है. यही वजह है कि यहां के किसान आलू को फसल बीमा योजना में लाने की मांग कर रहे थे. अब किसानों की फसल बीमा योजना की मांग तो पूरी हो गई है, लेकिन अब किसान बहुत लंबे से आलू के समर्थन मूल्य की मांग भी उठा रहे हैं.

    ऊना जिले के आलू उत्पादक आलू को फसल बीमा योजना के तहत शामिल किए जाने से काफी खुश हैं. दरअसल, ऊना जिले में लगभग 1200 हेक्टेयर भूमि पर आलू की पैदावार की जाती है. यहां हर वर्ष 15 से 17 हज़ार मीट्रिक टन आलू की पैदावार होती है.

    ऊना जिले में मुख्यत: दो किस्म के आलू की पैदावार अधिक होती है, जिसमें पुखराज तथा चंद्रमुखी शामिल है. जिले में सैंकड़ों किसान आलू के उत्पादन से अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं. हालांकि, मौसम की बेरुखी के चलते किसानों की पिछली दो फसले पूरी तरह से तबाह हो गई थी.

    किसानों की मानें तो आलू के फसल बीमा योजना में शामिल किए जाने से हमारे नुकसान की भरपाई की उम्मीद जग गई है.

    ये भी पढ़ें: पुलवामा आतंकी हमला: शहीद तिलक राज के परिजनों को 20 लाख की मदद का ऐलान

    शिमला से आज शुरू होगी विंटर ड्राइव कार रैली, कल्पा, काजा से होती यहां समाप्त होगी

    फिर स्टडी टूर पर जाएंगे MC शिमला के पार्षद, हैदराबाद में जानेंगे ‘जल प्रबंधन’

    Tags: Himachal pradesh, Notified crops, Una

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर