लाइव टीवी

Coronavirus: इतिहास में पहली बार चिंतपूर्णी मन्दिर के कपाट किए बंद, ऊना के प्रवेश द्वार सील
Una News in Hindi

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: March 18, 2020, 1:56 PM IST
Coronavirus: इतिहास में पहली बार चिंतपूर्णी मन्दिर के कपाट किए बंद, ऊना के प्रवेश द्वार सील
ऊना में चिंतपूर्णि मंदिर के बंद कपाट और सीमा पर तैनात पुलिस.

डीसी ऊना संदीप कुमार ने बताया कि कोरोना एक महामारी का रूप ले चुकी है और इसपर नियंत्रण करने के लिए ही प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन द्वारा आदेश जारी किये हैं.

  • Share this:
ऊना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खौफ के कारण हिमाचल सरकार के आदेशों के बाद ऊना जिला में स्थित विश्वविख्यात शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर (Chintpurni Temple) के कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए है, लेकिन मंदिर के रोजाना की तरह पुजारियों द्वारा पूजा-पाठ जारी रहेगा.

इतिहास में पहली बार किसी माहमारी के कारण महामाई चिंतपूर्णी के दर्शनों पर रोक लगाई गई है. चिंतपूर्णी ही नहीं, जिला में स्थित अन्य धार्मिक संस्थानों को भी बंद करने के आदेश जारी किये गए हैं. इसके साथ ही प्रदेश के ऊना सहित अन्य जिलों में धार्मिक स्थानों पर जाने वाले श्रद्धालुओं को जिला ऊना के प्रवेश द्वारों से ही वापिसी भेजा जा रहा है. इसके लिए पुलिस (Una Police) द्वारा 9 एंट्री पॉइंट पर नाकेबंदी करके श्रद्धालुओं को वापिस जाने की अपील की जा रही है.

ऑनलाइन कर सकते हैं दर्शन



जानकारी के अनुसार, मंगलवार सुबह 10 बजे के बाद श्रदालुओं की मन्दिर जाने की एंट्री पर पाबंदी लगा दी गई है. कोरोना वायरस के चलते हिमाचल सरकार को ये कदम उठाना पड़ा है. सोमवार और मंगलवार सुबह पहुंचे श्रद्धालुओं को 10 बजे तक माँ चिंतपूर्णी की पवित्र पिंडी के दर्शन करवाए गए, जिसके बाद 10 बजते ही मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए. श्रदालुओं को वेव स्ट्रीमिंग के जरिये ही वेबसाइट व मोबाइल पर माता रानी की पिंडी के लाइव दर्शन करवाने की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है.



नवरात्र में पहुंचते हैं बड़ी संख्या में श्रद्धालु
बता दें कि चिंतपूर्णी में 25 मार्च से नवरात्रे शुरू हो रहे हैं और नवरात्रों के दौरान भारी संख्या में पंजाब हिमाचल व विदेशो से श्रदालु यंहा पहुंचते हैं. ऐसे में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए ही सरकार ने ये आदेश जारी किए हैं. इसके साथ ही जिला प्रशासन ने हिमाचल के ऊना में स्थित 6 प्रवेश द्वारों को सील कर दिया है. जहाँ से हिमाचल के विभिन्न धार्मिक स्थलों को जाने वाले श्रद्धालुओं को वापिस भेजा जा रहा है.

ऊना पुलिस जिले के प्रवेश द्वार पर लोगों को रोकती हुई है.
ऊना पुलिस जिले के प्रवेश द्वार पर लोगों को रोकती हुई है.


यह बोले डीसी
डीसी ऊना संदीप कुमार ने बताया कि कोरोना एक महामारी का रूप ले चुकी है और इसपर नियंत्रण करने के लिए ही प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन द्वारा आदेश जारी किये हैं. पुजारी बारीदार सभा के सदस्य रविंद्र छिंदा ने कहा कि सरकार ने जो आदेश दिए हैं, उनका पालन किया जाएगा. चिंतपूर्णी मन्दिर के कपाट बंद करने के आदेश जारी किए गए हैं. कोरोना वायरस के चलते ऐसा निर्णय लिया गया है. आगामी आदेशों तक चिंतपूर्णी मन्दिर में श्रदालुओं की एंट्री पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा.

84 अतिरिक्त पुलिस जवान भी तैनात

पुलिस की अतिरिक्त तीन रिजर्व यानि की 84 अतिरिक्त पुलिस जवान भी तैनात कर दिए गए है. कोरोना के संक्रमण से पुलिस कर्मियों को बचाने के लिए पुलिस कर्मियों को मास्क और सैनेटाइजर भी वितरित किये गए हैं. एएसपी ऊना विनोद धीमान ने बताया कि पुलिस द्वारा जिला के 9 प्रवेश द्वारों पर नाकेबंदी कर श्रद्धालुओं को प्रदेश में आने से मना किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में तूड़ी से भरा ट्रक खाई में गिरा, 2 लोगों की मौत, 3 घायल

Coronavirus: चीन वापस लौटाना चाहता है हिमाचल के सरकाघाट का ये NRI परिवार

Coronavirus: हिमाचल के सभी शक्तिपीठ मंदिरों के कपाट बंद
First published: March 18, 2020, 12:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading