Assembly Banner 2021

हिमाचल: महंगाई ने तोड़ी जनता की कमर, एक साल में पेट्रोल-डीजल के दामों में 14.14 रुपये की आई बढ़ोतरी

हिमाचल में पेट्रोल और डीजल में पिछले एक साल में 14.14 रुपये प्रति लीटर कीमत में बढ़ोत्तरी हुई हैं.

हिमाचल में पेट्रोल और डीजल में पिछले एक साल में 14.14 रुपये प्रति लीटर कीमत में बढ़ोत्तरी हुई हैं.

हिमाचल (Himachal) में पिछले एक साल में महंगाई ने जनता की तोड़ी कमर तोड़ दी है. पेट्रोल (Petrol) और डीजल के दामों में एक साल में 14.14 रुपये हुई प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. कुल्लू (Kullu) में पेट्रोल (Petrol) 87 रुपये 36 पैसे और डीजल (Diesel) 79 रुपये 53 पैसे प्रति लीटर पहुंच गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2021, 5:06 PM IST
  • Share this:
शिमला. देश में पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) और रसोई गैस (Gas) की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी का सीधा असर लोगों कीजेब पर पड़ रहा है. कुल्लू जिले में पिछले एक साल से पेट्रोल (Petrol) डीजल (Diesel) के दामों में 14.14 रुपये की बढ़ौतरी की हुई है. ऐसे में जहां पिछले बर्ष फरवरी महीने में पेट्रोल 73 रुपये 50 पैसे और डीजल के दाम 65 रुपये 34 पैसे प्रति लीटर थे. आज पेट्रोल के दाम 87 रुपये 36 पैसे और डीजल के दाम 79 रुपये 35 पैसे प्रति लीटर पहुंच गये हैं.

वहीं रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 780 रूपये पहुंच गई है, जिससे पेट्रोल, डीजल के दामो में रिकॉर्ड तोड़ बढ़ोत्तरी से महंगाई चरम सीमा में पहुंच गई है. इससे गरीब व्यक्तियों को परिवार का पालन पोषण करने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं डीजल के दाम बढ़ने से परिवहन लागत में वृद्धि होने से किराया बढ़ा है. इसके कारण खाद्य पदार्थों की कीमतें आसमान छू रही हैं.

स्थानीय महिला मीना और किरण ने बताया कि पिछले कई वर्षों से लगातार पेट्रोल, डीजल के दामों में बढ़ोतरी से आम आदमी की जेब हल्की हो रही है और ऐसे में सभी चीजें महंगी हो रही हैं. पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने से लोगों को परिवार का पालन करने में दिक्कतें आ रही हैं. अगर सरकार ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया तो आम आदमी का जीना मुश्किल हो जाएगा.



बड़ी खबर: हिमाचल में निजी स्कूलों की लूट पर लगेगा लगाम, फीस नियंत्रण के लिए कानून बनाएगी सरकार

एक पेट्रोल पम्प के मैनेजर ने बताया कि पिछले वर्ष से अब पेट्रोल, डीजल में 14.14 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी हुई है. उन्होंने कहा कि अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी होने से लगातार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ रहे हैं. पिछले वर्ष फरवरी माह में 73 रुपये 50 पैसे और डीजल 65 रुपये 34 पैसे प्रति लीटर थे और अब पेट्रोल 87 रुपये 36 पैसे और डीजल 79 रूपये 35 पैसे पहुंच गया है. उन्होंने कहा कि डीजल मे 14 प्रतिशत वैट और पेट्रोल में 25 प्रतिशत वैट है जो राज्य सरकार को जाता है. उन्होंने कहा कि पेट्रोल डीजल के दामों में प्रतिदिन 20 से 30 पैसे का इजाफा हो रहा है.

स्थानीय महिला शशि ने बताया कि रसोई गैस की कीमतों मे लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल पहले एक सिलेंडर की कीमत 4 सौ रुपये थी, लेकिन अब गैस सिलेंडर कीमत 780 रुपये पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि लगातार महंगाई से आम आदमी का जीना मुश्किल हो गया है. स्थानीय युवा करण ने बताया कि पेट्रोल की कीमतें बढ़ने से उनकी जेब पर असर पड़ रहा है, जिससे वाहन चलाना मुश्किल हो गया है. उन्होंने कहा कि एक तरफ कोरोना काल में कई लोगों की नौकरी छिन गई हैं. दूसरी तरफ महंगाई बढ़ने से सारा सामान बढ़ गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज