45 डिग्री में तप रहा हिमाचल का ऊना, स्कूलों में छुट्टियों की मांग

एडीसी ऊना अरिंदम चौधरी की माने तो प्रशासन द्वारा गर्मी को देखते हुए समय में बदलाव किया गया है. अगर अविभावक या अध्यापक ऐसी कोई लिखित मांग प्रशासन को देंगे तो सरकार को भेजा जायेगा.

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 3, 2019, 5:25 PM IST
45 डिग्री में तप रहा हिमाचल का ऊना, स्कूलों में छुट्टियों की मांग
ऊना में इस समय 45 डिग्री के आसपास पारा चल रहा है.
Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 3, 2019, 5:25 PM IST
पिछले करीब एक सप्ताह से ऊना जिला में आसमान से आग कुछ इस तरह से बरस रही है कि पारा 45 डिग्री के आसपास हिचकौले खा रहा है. प्रचंड गर्मी को लेकर स्कूलों में पढ़ने वाले नौनिहालों के अविभावकों को अपने जिगर के टुकड़ों की चिंता सताने लग पड़ी है.

हिमाचल प्रदेश में बच्चो की छुट्टियां का शेड्यूल बरसात के मौसम में तय किया गया है, लेकिन ऊना के अविभावक छुट्टियों को पंजाब की तर्ज पर जून के पहले सप्ताह में करने की मांग उठा रहे है. वहीँ, अविभावक जून में छुट्टियां न होने की स्थिति में स्कूलों की समयसारिणी सुबह साढ़े सात से लेकर दोपहर 12 बजे तक करने की मांग कर रहे है.

45 डिग्री तप रहा ऊना
एक ओर देशभर से सैलानी ठंडी वादियों का मजा लेने के लिए हिमाचल के पहाड़ों का रूख कर रहे है. वहीँ, हिमाचल का कुछ हिस्सा ऐसा भी है जहाँ आसमान से आग के गोले बरस रहे हैं. इनमें से ही सबसे ऊपर जिला ऊना आता है जहाँ पिछले कई दिनों से पारा 45 डिग्री के करीब पहुंच रहा है. ऊना में पड़ रही तपतपाती गर्मी स्कूलों में पढ़ने वाले छोटे छोटे मासूमों को थर्ड डिग्री टॉर्चर कर रही है.

बदला है समय
वैसे जिला प्रशासन स्कूलों समयसारिणी में बदलाव करते हुए सुबह 8 बजे से 2 बजे किया गया है, लेकिन यह समयसारिणी भी बच्चों के लिए उचित नहीं लग रही है, क्योंकि दो बजे सूर्यदेव पूरे शबाब पर होते हैं. ऊना में पड़ रही प्रचंड गर्मी के कारण अस्पतालों में बच्चों की खूब भीड़ देखी जा सकती है. बच्चों को डिहाइड्रेशन, उल्टी, दस्त और बुखार जैसी समस्याएं पेश आ रही है. इन्ही बीमारियों के खतरे को भांपते हुए अविभावक शिक्षा विभाग से छुट्टियों के शैड्यूल को पंजाब की तर्ज पर जून के पहले सप्ताह में करने या फिर स्कूलों की समयसारिणी सुबह साढ़े सात बजे से दोपहर 12 बजे तक करने की मांग उठा रहे है.

समय में बदलाव सही नहीं
Loading...

अध्यापक भी मानते हैं कि गर्मी बढ़ने के कारण बच्चों को बहुत समस्याएं पेश आ रही है. अध्यापकों की माने तो ऊना में ज्यादा गर्मी को देखते हुए छुट्टियों को एडवांस करना चाहिए, वहीँ जिला प्रशासन द्वारा समयसारिणी में किये गए बदलाव को भी अध्यापक उचित नहीं मानते है और बच्चो के लिए स्कूल का समय सुबह साढ़े सात से 12 बजे तक करने की मांग कर रहे है. एडीसी ऊना अरिंदम चौधरी की माने तो प्रशासन द्वारा गर्मी को देखते हुए समय में बदलाव किया गया है. अगर अविभावक या अध्यापक ऐसी कोई लिखित मांग प्रशासन को देंगे तो सरकार को भेजा जायेगा.

ये भी पढ़ें: छह माह की बच्ची के गले में फंसा चॉकलेट का टुकड़ा, मौत

पंडोह और लारजी डैम से छोड़ा जाएगा पानी, अलर्ट जारी

हाईवे पर चलती कार पर पहाड़ी से गिरी चट्टान, ड्राइवर की मौत

हिमाचल कैबिनेट की मैराथन मीटिंग में सवर्ण आरक्षण को मूंजरी

खेतों में छलांग लगानेवाले नमन की निगाहें नेशनल चैंपियनशिप पर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऊना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 5:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...