ऊना में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम होगा लागू, CCTV फुटेज के आधार पर होंगे चालान

हिमाचल का ऊना जिला.
हिमाचल का ऊना जिला.

Una Police: एसपी ने माना कि लॉकडाउन के बाद अनलॉक की प्रक्रिया में नशा तस्करी की घटनाएं बढ़ी हैं. इसके चलते पुलिस ने पंजाब से सटी सीमाओं पर निगरानी को और कड़ी करने का फैसला लिया है, ताकि पंजाब के नशा तस्करों पर लगाम कसते हुए नशा कारोबार को फलने फूलने से रोका जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 12:43 PM IST
  • Share this:
ऊना. हिमाचल प्रदेश के ऊना (Una Police) जिले में पुलिस विभाग ने ट्रैफिक व्यवस्था (Traffic System) को चाक-चौबंद करने के लिए इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लागू करने का फैसला लिया है. इसका खुलासा जिला पुलिस कप्तान अर्जित सेन ठाकुर ने किया. नए सिस्टम के तहत पुलिस ने सड़क हादसों (Road Accidents) पर लगाम कसने की कवायद शुरू की गई है. ऊना जिला में यातायात नियमों की अनुपालना सुनिश्चित करने को पुलिस विभाग ने कर्मचारियों के साथ ही सीसीटीवी का सहारा लेने का भी अब निर्णय लिया है.

मुख्य स्थानों पर सीसीटीवी
पुलिस ने जिला के प्रमुख स्थानों पर अब सीसीटीवी इंस्टॉल करने का फैसला लिया है. हेलमेट न पहनने वाले दोपहिया वाहन चालकों, बिना सीट बेल्ट के चार पहिया वाहन चालकों, ओवर स्पीडिंग करने वालों और यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले तमाम चालकों के खिलाफ इंटीग्रेटेड ट्रेफिक मैनेजमेंट सिस्टम के आधार पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. ऊना जिला में अपराध पर लगाम कसने के लिए भी थाना व चौकी प्रभारियों को उपयोगी टिप्स दिए गए हैं. वहीं प्रदेश की सीमाओं पर भी पुलिस ने अब कड़ी निगरानी रखने का फैसला लिया है, ताकि नशा तस्करी पर लगाम कसी जा सके.

पुलिस कर्मियों से बैठक
दरअसल, एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने हाल ही में पुलिस लाइन में आयोजित मासिक अपराध विश्लेषण बैठक के दौरान पुलिस कर्मचारियों के साथ मंत्रणा के बाद इस सिस्टम को लागू करने का फैसला किया. उन्होंने बताया कि यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले चालकों समेत ओवर स्पीडिंग करने वालों पर पुलिस अब नाकेबंदी के साथ ही इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत सीसीटीवी कैमरों से भी नजर रखेगी. उन स्थानों का चयन किया जाएगा, जहां हर वक्त पुलिस का पहरा नहीं रह सकता है. ऐसे स्थानों पर इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत कैमरा इनस्टॉल करते हुए कड़ी निगाह रखी जाएगी। जिला पुलिस नशा तस्करी से निपटने के लिए भी सूबे की सीमाओं पर तीसरी आंख के पहरे को कड़ा करने का प्रयास करेगी.



नशा तस्करी बढ़ी
एसपी ने माना कि लॉकडाउन के बाद अनलॉक की प्रक्रिया में नशा तस्करी की घटनाएं बढ़ी हैं. इसके चलते पुलिस ने पंजाब से सटी सीमाओं पर निगरानी को और कड़ी करने का फैसला लिया है, ताकि पंजाब के नशा तस्करों पर लगाम कसते हुए नशा कारोबार को फलने फूलने से रोका जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज