जानिए क्यों दो बेटियों वाले पैरेंट्स को थाने पहुंचने पर चाय पिलाएगी पुलिस
Una News in Hindi

जानिए क्यों दो बेटियों वाले पैरेंट्स को थाने पहुंचने पर चाय पिलाएगी पुलिस
दिवाकर शर्मा, एसपी ऊना

जिला प्रशासन द्वारा दो या अधिक बेटियों के अविभावकों को डीसी कार्ड जारी किए गए हैं. इन कार्ड के जरिए किसी भी सरकारी संस्थान में काम को लेकर इन परिवारों को प्राथमिकता दी जा रही हैं.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश की ऊना पुलिस ने ऊना उत्कर्ष योजना को अपनाते हुए एक अनोखी पहल की है. अब दो या अधिक बेटियों के माता-पिता का थाना-चौकी आने पर सत्कार किया जाएगा. शिकायत के तत्काल निवारण के साथ पुलिस ऐसे लोगों को चाय भी पिलाएगी. स्थानीय लोगों ने पुलिस की इस मुहिम को सराहा है.

बता दें कि जिला प्रशासन द्वारा दो या अधिक बेटियों के अविभावकों को डीसी कार्ड जारी किए गए हैं. इन कार्ड के जरिए किसी भी सरकारी संस्थान में काम को लेकर इन परिवारों को प्राथमिकता दी जा रही हैं. अब ऊना पुलिस ने भी इस मुहीम में अपना योगदान देते हुए अनोखी पहल की है. ऊना पुलिस ने सभी पुलिस अधिकारीयों और थाना चौकियों को आदेश जारी कर कहा है कि डीसी कार्ड धारकों के शिकायतों का प्राथमिक्ता पर समाधान करें.

एसपी ऊना दिवाकर शर्मा ने डीसी राकेश प्रजापति द्वारा की गई पहल को लेकर पुलिस विभाग में अधिसूचना जारी की है. एसपी ऊना ने सभी थाना-चौकी प्रभारी व अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि ऊना उत्कर्ष के तहत डीसी कार्ड धारकों को प्राथमिकता के आधार पर डील किया जाए. एसपी ने ये भी आदेश दिए हैं कि कार्ड धारकों के सम्मान में उन्हें कार्यालय में चाय परोसी जाए.



दरअसल प्रदेश भर में ऊना जिले में लड़कियों का लिंगानुपात चिंताजनक स्थिति में होने के कारण जिला प्रशासन द्वारा यह पहल की गई है. ऊना का सीएसआर पहले 1000 लड़कों के प्रति 875 लड़कियों का था, जो बाद में विभिन्न प्रयासों से 915 तक पहुंच गया है. अभी इसमें और सुधार की गुंजाइश है. एएसपी ऊना विनोद धीमान ने कहा कि ऊना पुलिस प्रशासन की इस पहल में अपना योगदान दे रही है और इस संदर्भ में सभी पुलिस थाना चौकियों को निर्देश भी जारी कर दिए गए है.
जिला प्रशासन द्वारा दो या इससे अधिक बेटियों वाले करीब 4,500 परिवारों का चयन किया गया है जिनमें से करीब 1500 परिवारों को डीसी कार्ड जारी किए जा चुके हैं, जबकि शेष परिवारों को भी डीसी कार्ड देने की प्रक्रिया चल रही है. पुलिस की इस पहल पर डीसी ऊना राकेश प्रजापति ने भी प्रसन्नता व्यक्त की है. प्रजापति का कहना है कि पुलिस विभाग का यह प्रयास सराहनीय है. उन्होंने कहा कि इसको लेकर अन्य विभागीय अधिकारियों से इस तरह के प्रयास करने का आग्रह किया जाएगा ताकि डीसी कार्ड होल्डर अभिभावकों को सरकारी कार्यालय में पूरा मान सम्मान मिल सके.

ये भी पढ़ें- गन प्वाइंट पर लूटपाट की वारदात का आरोपी गिरफ्तार, 4 दिन की पुलिस रिमांड पर

ये भी पढ़ें- ममता शर्मसार! नाबालिग की डिलीवरी के बाद बेटी को मारने की कोशिश, ग्रिल में फंसी मिली मासूम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज