हिमाचल में भूस्खलन से दरके पहाड़, भर-भराकर गिरी चट्टानें, किन्नौर हाइवे बंद

हिमाचल में दरके पहाड़, भूस्खलन के कारण बंद हुए राष्ट्रीय उच्च मार्ग को खोलने को लेकर प्रशासनिक टीम जुट गई है.

हिमाचल में दरके पहाड़, भूस्खलन के कारण बंद हुए राष्ट्रीय उच्च मार्ग को खोलने को लेकर प्रशासनिक टीम जुट गई है.

किन्नौर के राष्ट्रीय उच्च मार्ग 5 पर एक बार फिर भूस्खलन देखने को मिला. यहां अचानक काशङ्ग खड्ड के समीप पहाड़ी से बड़ी-बढ़ी चट्टानें भरभराकर गिरने लगीं. यह देख लोग सहम गए् देखते ही देखते मार्ग बंद हो गया.

  • Share this:

अरुण नेगी 

किन्नौर. हिमाचल प्रदेश ( Himachal Pradesh) के जिला किन्नौर ( Kinnaur ) के राष्ट्रीय उच्च मार्ग 5 पर एक बार फिर भूस्खलन ( Landslide) देखने को मिला. यहां अचानक काशङ्ग खड्ड के समीप पहाड़ी से बड़ी-बढ़ी चट्टानें भरभराकर गिरने लगीं. यह देख लोग सहम गए् देखते ही देखते मार्ग बंद हो गया. पहाड़ों से टूटकर गिरती चट्टानों को कई लोगों ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया. सडक़ को खोलेने के लिए वहां सीमा सडक़ संगठन की टीम जुट गई है.

हमाचल प्रदेश की वादियों में अक्सर भूस्खलन की तस्वीरें देखने को मिल जाती हैं. रविवार को एक बार फिर यहां के जिला किन्नौर के राष्ट्रीय उच्च मार्ग 5 पर काशङ्ग खड्ड के समीप पहाड़ी से बड़ी-बढ़ी चट्टानें भरभराकर गिरने लगीं. बड़ी-बड़ी चट्टानों के गिरने की वजह से सडक़ मार्ग बंद हो गया है.  सडक़ मार्ग पर लगभग 50 मीटर लम्बा सडक़ मार्ग बंद हो जाने से दोनों तरफ वाहनों की कतारें लगी हुई हैं. भूस्खलन के कारण बंद हुए राष्ट्रीय उच्च मार्ग को खोलने को लेकर प्रशासनिक टीम जुट गई है.

सडक़ के दोनों तरफ लंबी-लंगी कतारें लगी हुईं हैं. सीमा सडक़ संगठन की मशीनें व कर्मचारी सडक़ मार्ग को बहाल करने में युद्ध स्तर पर कार्य कर रहे हैं. कार्य करने के दौरान भी पहाड़ी से चट्टानों को खिसककर गिरते देखा जा रहा है. इस कारण वहां कार्य कर रहे मजदूरों की जान पर भी खतरा बना हुआ है. ग्रेफ के ओसी पी के सिंह ने बताया कि शाम तक सडक़ मार्ग को बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है. लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े इसलिए तेजी से कार्य कराया जा रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज