लाइव टीवी

ऊना: वीवीआईपी की सुरक्षा राम भरोसे, रेस्ट हाउसों में आग से निपटने के प्रबंध नहीं

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 5, 2019, 6:04 PM IST
ऊना: वीवीआईपी की सुरक्षा राम भरोसे, रेस्ट हाउसों में आग से निपटने के प्रबंध नहीं
सभी अग्निशमन यंत्रों की समयावधि समाप्त हो चुकी है. (सांकेतिक तस्वीर)

कार्यकारी जिलाधीश एवं एडीएम ऊना अरिंदम चौधरी ने माना कि यह चिंताजनक विषय है और जल्द ही संबंधित अधिकारियों को अग्निशमन यंत्रों को सुचारु करने के निर्देश दिए जाएंगे.

  • Share this:
ऊना. हिमाचल प्रदेश के ऊना (Una) जिला मुख्यालय पर सर्किट हाऊस (Circuit House) में रुकने वाले वीवीआईपी और आम लोगों की सुरक्षा राम भरोसे ही चल रही है. जिला ऊना के सबसे व्यस्तम विश्राम गृह में आगजनी (Fire) से बचाव के लिए लगाए गए अग्निशमन यंत्र मात्र दीवारों पर लगे शोपीस से अधिक कुछ नहीं हैं. क्योंकि, सर्किट हाउस में लगे सभी अग्निशमन यंत्रों की समयावधि समाप्त हो चुकी है.

रामपुर में वन विभाग के रेस्ट हाऊस से केवल एक ही अग्निशमन यंत्र लगा है और वह भी एक्सपायर है. IPH के रेस्ट हाउस में अग्निशमन यंत्र बिलकुल ठीक हैं. ऐसे में अगर कोई बड़ा हादसा होता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा, शायद इसका जवाब प्रशासन और विश्राम गृहों का रखरखाव करने वाले विभागों के अधिकारियों के पास भी नहीं है.

शोपीस बने हैं यंत्र
लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में 20 के करीब अग्निशमन यंत्र तो लगे है लेकिन उन्हें मात्र शोपीस ही कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति न होगी. क्योंकि विश्राम गृह में लगे सभी अग्निशमन यंत्रो की समयावधि समाप्त हो चुकी है. वहीँ अग्निशमन यंत्र पूरी तरह से खाली भी हो चुके हैय अग्निशमन यंत्रों पर लगे मीटर पर नजर डाले तो एक दो यंत्र ही 10-20 प्रतिशत आग बुझाने वाला पदार्थ दिखा रहे हैं, जबकि ज्यादातर मित्रों पर जीरो प्रतिशत देखा जा सकता है.

लोगों की सुरक्षा दाव पर
रामपुर में वन विभाग के रेस्ट हाउस में तो केवल एक ही अग्निशमन यंत्र लगाया गया है और उसकी भी समयावधि समाप्त है. अति वशिष्ट लोगों को ठहरने की सुविधा के लिए बनाए गए इस विश्राम गृह में अति विशिष्ट लोगों के साथ-साथ आम लोगों की सुरक्षा दांव पर लगी है, लेकिन विश्राम गृह का संचालन करने वाले लोक निर्माण विभाग को इसकी कोई चिंता नहीं है. अगर आगजनी के कारण सर्किट हाऊस में अनहोनी होती है, तो इसका जिम्मेवार कौन होगा, यह सवाल सर्किट हाऊस में ठहरने वाले प्रत्येक व्यक्ति के जहन में उठता है. स्थानीय लोग इसे विभाग की बड़ी लापरवाही मानते है.

यह बोले अधिकारीविश्राम गृह के रखरखाव का जिम्मा संभाले PWD विभाग के अधिकारियों को तो यंत्रों की समयावधि समाप्त होने की कोई जानकारी ही नहीं है. डीएस देहल (XEN, PWD ऊना) ने कहा कि यंत्रों को शीघ्र रिफिल करवा दिया जाएगा. कार्यकारी जिलाधीश एवं एडीएम ऊना अरिंदम चौधरी ने माना कि यह चिंताजनक विषय है और जल्द ही संबंधित अधिकारीयों को अग्निशमन यंत्रों को सुचारु करने के निर्देश दिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में 5वीं कक्षा की छात्रा से दुष्कर्म, आरोपी नाबालिग चचेरा भाई फरार

बिलासपुर DC ऑफिस में आग, पुलिसवालों ने भागकर बचाई जान, रिकॉर्ड राख़

कांग्रेस से गद्दारी करने वाले पद के लायक नहीं, सुधीर को हटाया जाए: विजयइंद्र

Big Bout Boxing League: हिमाचली बॉक्सर आशीष ने ओडिसा वॉरियर्स को दी मात

पढ़ाई के लिए शादी टाली, B.ED में किया टॉप, राज्यपाल ने गोल्ड मेडल से नवाजा

बॉलीवुड स्टार अमिताभ बच्चन ने छोटी काशी मंडी में बिताई रात, चंडीगढ़ हुए रवाना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऊना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 5:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर