हिमाचल प्रदेश: टूटू, चौपाल व धर्मपुर विकास खंडों में रिक्त पदों के निर्वाचन की अधिसूचना, 7 अप्रैल को मतदान

हिमाचल प्रदेश: टूटू, चौपाल व धर्मपुर विकास खंडों में रिक्त पदों के निर्वाचन की अधिसूचना, 7 अप्रैल को मतदान.

हिमाचल प्रदेश: टूटू, चौपाल व धर्मपुर विकास खंडों में रिक्त पदों के निर्वाचन की अधिसूचना, 7 अप्रैल को मतदान.

टूटू, चैपाल और मंडी जिले के धर्मपुर विकास खण्ड और हाल ही में गठित पंचायतों में हुई आकस्मिक रिक्तियों के निर्वाचन के लिए बुधवार को अधिसूचना जारी की गई. रिक्त सीटों पर चुनाव के लिए जिन तारीखों का ऐलान किया गया उनमें 22 से 24 मार्च तक नामांकन पत्र दाखिल करने, 25 मार्च को उनकी जांच और 27 को नाम वापसी के लिए कार्यक्रम निर्धारित किया गया है. मतदान 7 अप्रैल को होगा.  

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2021, 3:36 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission) ने शिमला (Shimla) जिले के दो विकास खण्डों में प्रधान पदों की रिक्तियों को लेकर अधिसूचना जारी कर दी है. यहां के टूटू, चैपाल और मंडी जिले के धर्मपुर विकास खण्ड और हाल ही में गठित पंचायतों में हुई आकस्मिक रिक्तियों के निर्वाचन के लिए बुधवार को अधिसूचना जारी की गई. रिक्त सीटों पर चुनाव के लिए जिन तारीखों का ऐलान किया गया उनमें 22 से 24 मार्च तक नामांकन पत्र दाखिल करने, 25 मार्च को उनकी जांच और 27 को नाम वापसी के लिए कार्यक्रम निर्धारित किया गया है. मतदान 7 अप्रैल को होगा.

हिमाचल प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्वाचन कार्यक्रम के अनुसार 22, 23 व 24 मार्च को नामांकन पत्र प्रस्तुत किए जाएंगे. दाखिल किए गए नामांकन पत्रों की जांच पड़ताल 25 मार्च को होगी. यह कार्य रिटर्निंग/सहायक रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा किया जाएगा.

Youtube Video


राज्य निर्वाचन आयोग के एक प्रवक्ता ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि नामांकन करने वाले इच्छुक प्रत्याशियों के लिए 27 मार्च को प्रात: 10 बजे से सांय 3 बजे तक नाम वापसी का समय निर्धारित किया गया है. निर्धारित समय के दौरान कोई भी प्रत्याशी अपनी इच्छा के अनुसार अपना नामांकन पत्र वापिस ले सकता है. चुनाव में भाग लेने वाले उम्मीदवारों को 27 मार्च को ही नामांकन पत्रों की वापिसी के फौरन बाद चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे.
उन्होंने कहा कि यह चुनाव स्वतंत्र चुनाव चिन्ह के आधार पर होगा. किसी भी उम्मीदवार को उसकी पसन्द का चुनाव चिन्ह आवंटित नहीं किया जाएगा. मतदान 7 अप्रैल को प्रात: 8 बजे से सायं 4 बजे तक करवाया जाएगा. प्रधान, उप-प्रधान एवं पंचायत सदस्य के पद की मतगणना मतदान के तुरन्त बाद पंचायत मुख्यालय पर की जाएगी. इस अधिसूचना के साथ ही प्रदेश के उन क्षेत्रों में तत्काल प्रभाव से आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है जहां निर्वाचन प्रक्रिया प्रारम्भ की जा चुकी है.

15 मार्च तक सूची में नाम जुड़वा सकते हैं छूटे मतदाता

राज्य निर्वाचन के प्रवक्ता ने कहा कि अगर किसी मतदाता का नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं हुआ हो तो वह 15 मार्च तक अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करवा सकता है. इसके लिए संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) एवं उपायुक्त को प्रपत्र-2 पर दोहरी प्रति में मात्र 2 रुपये का शुल्क अदा कर प्रस्तुत कर सकता है. जिसके बाद उसका नाम मतदाता सूची में जुड़ जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज