अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस पर हमला, कांग्रेस MLA का PSO-ड्राइवर गिरफ्तार

विधायक सतपाल रायजादा की मानें तो उनका पीए और ड्राइवर पीएसओ को उसके घर संतोषगढ़ छोड़ने के लिए गए थे. रास्ते में क्या हुआ इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है. फिलहाल, उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से ही कोई लड़ाई झगड़ा होने की बात पता चली है.

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 11:38 AM IST
अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस पर हमला, कांग्रेस MLA का PSO-ड्राइवर गिरफ्तार
ऊना में अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला.
Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 11:38 AM IST
हिमाचल के ऊना में पेखुवेला में शराब पकड़ने गई पुलिस की एसआईयू टीम पर हमला हो गया. शराब से भरी गाडी पकड़ने के बाद पुलिस टीम के दो सदस्यों के साथ जमकर मारपीट हुई. पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करने वालों में ऊना सदर से कांग्रेस के विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और ड्राइवर को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

शराब वाली गाड़ी के चालक को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने विधायक की गाडी को भी कब्जा में लिया है. गाडी में विधायक सतपाल रायजादा सवार नहीं थे. विधायक सतपाल रायजादा ने कहा कि उनके पीए और ड्राइवर पीएसओ को घर छोड़ने जा रहे थे रास्ते में क्या हुआ इसकी उन्हें जानकारी नहीं है.

सोमवार देर रात की घटना
जानकारी के अनुसार, ऊना संतोषगढ़ मार्ग पर देर रात सोमवार की यह घटना है. पेखुवेला के सोमवार देर रात अवैध शराब पकड़ने के मामले में विवाद हो गया और देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि पुलिस बल को मौके पर पहुंचना पड़ा. पुलिस की मानें तो एसआईयू की टीम ने एक गाड़ी को रोक कर उसमें से शराब बरामद की. आरोपी ने तुरंत किसी को इस बारे में बताया. इसके बाद कार में कुछ लोग आए और दो पुलिस कर्मियों पर हमला कर दिया.

विधायक की गाड़ी कब्जे में
पुलिस के अनुसार विधायक रायजादा के पीएसओ और ड्राइवर भी इस हमले में शामिल थे. पुलिसकर्मियों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने विधायक की गाड़ी को भी कब्जे में ले लिया और विधायक के चालक व गनमैन को हिरासत में ले लिया गया है. अवैध शराब के साथ पकड़े गए आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीँ हमले में शामिल कुछ लोग मौका से फरार हो गए है जिनकी तलाश की जा रही है.

एएसपी ऊना भी मौके पर पहुंचे
Loading...

मामले की जानकारी मिलते ही एएसपी ऊना विनोद धीमान भी मौका पर पहुंचे और छानबीन की. एएसपी ऊना की मानें तो शराब तस्कर को पकड़ने के बाद दो गाड़ियों में कुछ लोग सवार होकर आए, इसमें विधायक की गाडी भी शामिल थी. एएसपी के मुताबिक़ इन लोगों ने पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट की. गाड़ी में शराब की बोतलें भी तोड़ने का प्रयास किया गया.

इतनी शराब मिली
एएसपी ने बताया कि पुलिस ने गाडी से 11 पेटी शराब को भी कब्जे में लिया गया है. विधायक की गाडी सहित शराब वाली गाड़ी के साथ एक अन्य कार को भी कब्जे में ले लिया गया है. एएसपी ऊना ने बताया कि पुलिस मामले की गहनता से छानबीन कर रही है.

ये बोले विधायक
विधायक सतपाल रायजादा की मानें तो उनका पीए और ड्राइवर-पीएसओ को उसके घर संतोषगढ़ छोड़ने के लिए गए थे. रास्ते में क्या हुआ इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है. फिलहाल, उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से ही कोई लड़ाई झगड़ा होने की बात पता चली है.

ये भी पढ़ें: बच्चा चोर गिरोह का खौफ: एक ही परिवार के 5 बच्‍चे लापता

हिमाचल में पहली बार किडनी ट्रांसप्लांट, IGMC ने रचा इतिहास
First published: August 13, 2019, 10:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...