अपना शहर चुनें

States

ऊना: बैंकों के NPA की स्थिति चिंताजनक, लीड बैंक मैनेजर ने की ग्राहकों से कर्ज वापसी की अपील

पीएनबी के लीड बैंक मैनेजर जयपाल भनोट की माने तो ऊना में करीब 20 प्रतिशत एनपीए है.
पीएनबी के लीड बैंक मैनेजर जयपाल भनोट की माने तो ऊना में करीब 20 प्रतिशत एनपीए है.

गैर निष्पादित परिसंपत्ति का सीधा संबंध ऋण न चुकाने से होता है. जब ऋण लेने वाला व्यक्ति 90 दिनों तक ब्याज या मूलधन का भुगतान करने में विफल रहता है तो उसे एनपीए मान लिया जाता है.

  • Share this:
ऊना. हिमाचल के ऊना जिले में बैंकों की गैर निष्पादित संपत्ति (NPA) की स्थिति काफी चिंताजनक है. जिले में एनपीए की प्रतिशतता का आंकड़ा देश की कुल प्रतिशतता से काफी अधिक है. पंजाब नैशनल बैंक (Punjab National Bank) के लीड बैंक प्रबंधक (Lead Bank Manager) की माने तो ऊना जिले में 20 प्रतिशत के करीब एनपीए है. लीड बैंक मैनेजर ने कहा कि यह आंकड़ा बहुत ज्यादा है. उन्होंने जहां ग्राहकों से समय पर कर्ज वापस करने की अपील की, वहीँ बैंकों से भी कर्ज रिकवरी के लिए उचित कदम उठाने का आह्वान किया.

... तब उसे NPA मान लिया जाता है

गैर निष्पादित परिसंपत्ति का सीधा संबंध ऋण न चुकाने से होता है. जब ऋण लेने वाला व्यक्ति 90 दिनों तक ब्याज या मूलधन का भुगतान करने में विफल रहता है तो उसे एनपीए मान लिया जाता है. ऊना जिले में एनपीए की स्थिति बहुत खराब है. पीएनबी के लीड बैंक मैनेजर जयपाल भनोट की माने तो ऊना में एनपीए की प्रतिशतता राष्ट्रीय प्रतिशतता से बहुत अधिक है और ऊना में करीब 20 प्रतिशत एनपीए है. यह स्थिति किसी भी तरह से स्वीकार करने योग्य नहीं है.



प्रभावित होती है अर्थव्यवस्था
भनोट ने कहा कि इस विषय को लेकर लगातार बैठकें की जा रही हैं. बैंकों को एनपीए की रिकवरी के दिशा निर्देश दिए जाते हैं. भनोट ने ग्राहकों से भी बैंकों से लिए गए कर्ज को समय पर वापस करने की अपील की. उन्होंने कहा कि बैंकों के पास जो पैसा होता है वो ग्राहकों का ही होता है और अगर कर्ज के रूप में दिया गया पैसा वापस नहीं होगा तो इसका अर्थव्यवस्था पर बहुत असर पड़ता है. लीड बैंक मैनेजर भनोट ने कहा कि बैंक एनपीए की रिकवरी के लिए लगातार प्रयासरत है और जरूरत पड़ने पर क़ानूनी कार्रवाई भी की जा रही है.

ये भी पढ़ें - शिमला में तहबाजारियों को मिलेगा आजीविका भवन, 31 मार्च को सीएम करेंगे उद्घाटन

ये भी पढ़ें - सोनिया गांधी के नेतृत्व में महंगाई व बेरोजगारी पर होगी कांग्रेस की रैली
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज